बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। चिरमिरी-बिलासपुर एक्सप्रेस की पार्सल बोगी में मृत मिले व्यक्ति की पहचान हो गई है। मृतक सल्कारोड के करीब डबरी नवागांव का रहने वाला था। अखबार व वाट्सएप देखकर स्वजन जीआरपी थाने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने यह भी जानकारी दी कि वह पिछले कई दिनों से मानसिक रूप से परेशान थे। अभी जिला अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। इसके बाद अंतिम संस्कार के लिए शव स्वजनों को सौंप दिया जाएगा।

बिलासपुर स्थित कोचिंग डिपो में गुरुवार को ट्रेन की सफाई व मरम्मत के दौरान कर्मचारियों ने सबसे पहले शव को देख। मृतक के गले में गमछे का फंदा था। इससे कर्मचारी घबरा गए और तत्काल इसकी सूचना संबंधित अधिकारियों को दी गई। इसके बाद मेमो मिलने के बाद जीआरपी मौके पर पहुंची।

पंचनामा की कार्रवाई करने के बाद शव को शवगृह में रखा गया था। इस दौरान पहचान के लिए वाट्सएप में फोटो व जानकारी भेजी गई। अखबार में घटना की जानकारी प्रकाशित थी। इन्हीं माध्यमों से स्वजनों तक जानकारी पहुंच गई। स्वजन शुक्रवार रात को बिलासपुर पहुंच गए। लेकिन उन्हें यही समझ नहीं आया कि कहा जाए। लिहाज रात गुजरने का इंतजार किया। सुबह जीआरपी थाना पहुंचकर मृतक के स्वजन होने की जानकारी दी।

स्वजनों के अनुसार मृतक का नाम रामजी ढीमर है और वह सल्कारोड के करीब डबरी नवागांव का निवासी है। अभी स्वजनों का बयाना नहीं हो सका है। पर उन्होंने यह जानकारी जरुर दी है कि वह मानसिक रूप से परेशान था। पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों का बयान लिया जाएगा। इसके बाद ही वजह पूरी तरह स्पष्ट हो सकेगी।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local