बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

हावड़ा- पुणे आजाद हिंद एक्सप्रेस से भाग रहे लड़का- लड़की को आरपीएफ ने पकड़ लिया है। छानबीन के बाद परिजनों का पता चला। साथ ही यह जानकारी मिली लड़के के खिलाफ लड़की के परिजनों ने थाने में अपराध दर्ज कराया है। लिहाजा संबंधित थाने को सूचना दी। इसके बाद पुलिस पहुंची और इसके लड़के को उनके सुपुर्द कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार मंडल सुरक्षा नियंत्रण को सूचना मिली कि 12130 हावड़ा- पुणे आजाद हिंद एक्सप्रेस में एक लड़का- लड़की इंजन के पीछे वाले जनरल कोच में यात्रा कर रहे हैं जो घर से भागे हैं। इस सूचना पर अपराध गुप्तचर शाखा व आरपीएफ पोस्ट के महिला व पुरुष स्टाफ पहुंचे। ट्रेन प्लेटफार्म क्रमांक चार में पहुंची। दोनों जनरल कोच में बैठे थे। पूछताछ के बाद दोनों को ट्रेन से उतारा गया। इसके बाद उन्हें आरपीएफ में लाया गया। नाम- पते की जानकारी लेने के बाद दोनों को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया गया। इसके बाद लड़की के पिता से मोबाइल पर बात की गई। इस पर उन्होंने बताया कि 11 अप्रैल 2019 से उनकी लड़की को वह लड़का बहला- फुसलाकर साथ ले गया है। इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई है। लड़के की उम्र करीब 19 वर्ष होने के कारण बाद में उसे आरपीएफ अपराध गुप्तचार शाखा के सुपुर्द कर दिया गया। इस दौरान आरपीएफ ने परिजन व उत्तर प्रदेश पुलिस से बात की। पुलिस ने लड़के के खिलाफ जुर्म दर्ज होने की पुष्टि की। साथ ही यह कहा कि उसे आरपीएफ में रखने की बात कहते हुए वहां से रवाना हुए। सोमवार को पुलिस बिलासपुर पहुंची। यहां आकर जानकारी दी लड़के के खिलाफ धारा 363, 366 के तहत अपराध दर्ज है। लिहाजा कागजी कार्रवाई के बाद उसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया।