बिलासपुर। न्यायधानी में मौसम का मूड फिर से बदलने लगा है। "जवाद" चक्रवाती तूफान के असर से अगले दो तीन दिनों में बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने इसे लेकर चेतावनी भी जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र रायपुर के मौसम विज्ञानी डा.एचपी चंद्रा के मुताबिक एक कम दबाव का क्षेत्र मध्य अंडमान सागर और उसके आसपास स्थित है। इसके साथ ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण 5.8 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।

इसके पश्चिम उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए आज प्रबल होकर और अवदाब के रूप में परिवर्तित होने की संभावना है। इसके पुनः प्रबल होकर एक चक्रवात के रूप में मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर अगले 24 घंटे में पहुंचने की संभावना है। यह उत्तर पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ते हुए और अधिक प्रबल होकर चार दिसंबर को सुबह उत्तर आंध्र प्रदेश- उड़ीसा तट के पास पहुंचने की संभावना है। पाथ ट्रेक आने के बाद ही कुछ ज्यादा बता सकते हैं।

वैसे तीन से पांच दिसंबर तक छग में मौसम खराब रहने की संभावना है। चक्रवाती तूफान का नाम "जवाद" है। फिलहाल बिलासपुर का अधिकतम तापमान 28 एवं न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस के करीब है। मौसम में हो रहे बदलाव को लेकर किसान भी चिंतित है। डर है कि कहीं बारिश उन्हें नुकसान न पहुंचा दे। मौसम खराब होने से स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं भी जन्म लेती है। ठंड के दिनों में सर्दी, खांसी या कफ की समस्या आम है। जिसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम भी सचेत है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local