बिलासपुर । कोरबा-अमृतसर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए राहतभरी खबर है। रेलवे जल्द इसे पूरे सप्ताह चलाएगी। इसके लिए रेलवे बोर्ड से भी अनुमति मिल गई है। अब रेलवे दो और एलएचबी कोच की रैक तैयार करने में जुट गई है। यह काम पूरा होते ही सातों दिन चलाने की घोषणा कर दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस बिलासपुर रेल मंडल की सबसे महत्वपूर्ण ट्रेनों में एक है। पहले यह पूरे सप्ताह चलती थी, लेकिन कोरोना संक्रमण की पहली लहर के बाद ट्रेन के पहिए थम गए। जब संक्रमण सामान्य हुआ और ट्रेनों को चलाने की घोषणा हुई, उस सूची में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस भी शामिल थी। रेलवे ने इसे स्पेशल बनाकर सप्ताह में केवल तीन दिन ही चलाने का निर्णय लिया। हालांकि बाद में स्पेशल शब्द हट गया। इसके बाद भी यात्रियों को इस ट्रेन की सुविधा पूरे दिन नहीं मिल रही थी।

तीन दिन ही चलाई जा रही थी। अब यात्रियों की सुविधा को देखते हुए पूरे सप्ताह चलाने के लिए रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा। पिछले दिनों बोर्ड ने इसके लिए सहमति भी दे दी है। हालांकि इसमें कुछ समय लगेगा। दरअसल सात दिन चलाने के लिए रेलवे को पांच एलएचबी रैक की आवश्यकता है। इसमें से तीन तो पहले ही तैयार है। अब आवश्यकतानुसार दो एलएचबी रैक तैयार की जा रही है। इसमें भी एक को तैयार करने के लिए पर्याप्त एलएचबी कोच है। एक और तैयार करने के लिए नए कोच उपलब्ध नहीं है। इसके आते ही उसे भी तैयार कर लिया जाएगा। इसके बाद ही यात्री पूरे सप्ताह इस ट्रेन से सफर कर सकते हैं। मालूम हो कि यह ट्रेन पहले सामान्य कोच से चलती थी।

तीन दिन में तय करती है सफर

कोरबा से बिलासपुर व रायपुर होते अमृतसर रेलवे स्टेशन तक की दूरी यह ट्रेन तीन दिन में तय करती है। लंबी दूरी की ट्रेन होने के कारण ही रेलवे ने इसे एलएचबी कोच से चलाने का निर्णय लिया था। एलएचबी के साथ ट्रेन पहली बार बीते साल 27 अक्टूबर को रवाना हुई। इसके बाद बारी-बारी दो और रैक इसी कोच के साथ तैयार की गई। अब यात्री सप्ताहभर आरामदायक व सुरक्षित यात्रा कर सकेंगे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local