बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण कम होते ही ट्रेनों में भीड़ भी बढ़ने लगी है। यात्री फिर से गंतव्य तक पहुंचने के लिए रिजर्वेशन कराने लगे हैं। यही वजह है कि कुछ ट्रेनों में प्रतीक्षा सूची भी धीरे-धीरे बढ़ने लगी है। ऐसी ही ट्रेनों का आकलन कर रेलवे उनमें अतिरिक्त कोच लगा रही है, ताकि सफर न अटके और वे आसानी से गंतव्य तक पहुंच सके।

इसी के तहत ही 20847/20848 दुर्ग - उधमपुर एक्सप्रेस ट्रेन में एक अतिरिक्त स्लीपर कोच की सुविधा दी जा रही है। हालांकि यह सुविधा एक- एक फेरे के लिए दी जा रही है। लेकिन रेलवे का कहना है कि इस एक कोच के लगने से यात्री लाभान्वित होंगे। उन्हें कंफर्म मिलेगी। उधमपुर से यह ट्रेन 27 जनवरी को अतिरिक्त कोच के साथ रवाना होगी। इसी तरह 22647/22648 कोरबा-कोचुवेली एक्सप्रेस में एक अतिरिक्त स्लीपर कोच की सुविधा दी जाएगी।

कोचुवेली से यह ट्रेन 31 जनवरी अतिरिक्त कोच के साथ ही रवाना होगी। मालूम हो कि यह दोनों महत्वपूर्ण ट्रेन हैं और हमेशा इनमें भीड़ रहती है। उधमपुर एक्सप्रेस में तो इतनी अधिक यात्री सफर करते हैं कि कई बार शौचालय के आसपास तक बैठकर यात्रा करना पड़ता है। इस ट्रेन के जरिए छत्तीसगढ़ से बड़ी संख्या में श्रमिक दूसरे राज्यों में पलायन करते हैं।

यह समस्या अभी की नहीं है। जब से इस ट्रेन का परिचालन शुरू हुआ है यही स्थिति है। पलायन की जानकारी होते हुए भी संबंधित विभाग कभी इन्हें रोकने का प्रयास करता है। रेलवे को भी इससे कोई लेना- देना नहीं है। उन्हें तो जितने अधिक यात्री सफर करेंगे, उतना ही फायदा होगा।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local