बिलासपुर। बेलगहना क्षेत्र के कुरवार में रहने वाले युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक के सिर और चेहरे में चोट के निशान हैं। मृतक ने घटना से पहले अपने भांजे से फोन पर बात की थी। इस दौरान उसने ससुराल वालों पर मारपीट का आरोप लगाया। साथ ही कहा कि दोषियों को छोड़ना मत। मृतक के स्वजन ने हत्या का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया है।

बेलगहना चौकी प्रभारी अजय वारे ने बताया कि घटना बुधवार सुबह की है। कोटा के बंगलापारा में रहने वाले रतनलाल साहू(30) की बेलगहना क्षेत्र के कुरवार में ससुराल है। वे अपनी पत्नी छोटी साहू और बेटे के साथ ससुराल में रहते थे। बुधवार की सुबह उनकी लाश एक कमरे में फांसी के फंदे पर लटक रही थी। इसकी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। घटना की खबर मृतक के घर में भी दी गई।

इस पर उनकी मां गंगा बाई और पिता चैतराम वहां पहुंच गए। मृतक के चहरे पर चोट के निशान देखकर मां गंगा बाई और पिता चैतराम ने ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया है। मृतक के भांजे कान्हा साहू ने बताया कि कुछ दिन पहले रतनलाल पारिवारिक वैवाहिक कार्यक्रम में सक्ती गए थे। मंगलवार को ही वे ससुराल लौटे। बुधवार की सुबह नौ बजे मामा रतनलाल ने उन्हें फोन किया। उन्होंने कान्हा को बताया कि बुधवार की सुबह ससुराल वालों ने उससे मारपीट की है। इससे उसे चोटे आई है। साथ ही कहा कि तुम इन लोगों को छोड़ना मत। इसके कुछ देर बाद सुबह 10 बजे सूचना मिली कि रतन ने फांसी लगा ली है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से स्पष्ट होगा मामला

मामले में बेलगहना चौकी प्रभारी अजय वारे ने बताया कि घटना की सूचना पर शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया गया है। वहीं, मृतक के स्वजन और ससुराल वालों का बयान दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद स्वजन से एक बार और पूछताछ की जाएगी। इसके बाद घटना का कारण स्पष्ट होगा। फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है।

सक्ती थाने में नहीं लिखी शिकायत

मृतक रतनलाल के भांजे कान्हा ने बताया कि दो दिन पहले उनके मामा शादी में गए थे। सक्ती में उनकी साली की शादी थी। वैवाहिक कार्यक्रम के दौरान मोबाइल में बात करने को लेकर उनका अपनी पत्नी छोटी से विवाद हुआ था। इस दौरान उनकी पत्नी छोटी, ससुर कुंवरवा साहू और साले राजेश साहू ने मारपीट कर उनका सिर फोड़ दिया। इस पर रतनलाल शिकायत लेकर सक्ती थाने गए थे। थाने में तीन घंटे बिठाने के बाद भी पुलिस ने उनकी शिकायत दर्ज नहीं की।

घटना के पहले का वीडियो डिलीट

मृतक रतन साहू के भांजे कान्हा ने बताया कि उनके मामा ने घटना से पहले अपने मोबाइल से एक वीडियो भेजा था। वीडियो को कान्हा ने अपने मोबाइल पर डाउनलोड किया। इसके कुछ ही देर बाद उनके फांसी लगाने की जानकारी मिली। उन्होंने अपने मोबाइल पर वीडियो को देखा तो वह डिलीट हो चुका था। पुलिस ने मृतक का मोबाइल जब्त कर लिया है। इसकी जांच की जा रही है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local