बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंधड़ की वजह से कई जगह पर पेड़ गिर गए तो कहीं बैनर फटकर सीधे बिजली तार पर आ गए। इसके चलते बिजली सप्लाई ठप हो गई। करीब डेढ़ घंटे तक शहर में अंधेरा छाया रहा। लोग परेशान हुए और लगातार फ्यूज काल सेंटर व बिजली वितरण कंपनी के अधिकारियों को काल करते रहे। हमेशा की तरह कंपनी में संसाधन व स्टाफ की कमी के कारण सप्लाई सामान्य होने में काफी वक्त लग गया।

शाम सात बजे के बाद अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। अचानक अंधड़ चलने लगा। इसके कारण सबसे ज्यादा प्रभावित बिजली सप्लाई ही रही। व्यापार विहार, अग्रसेन चौक, रिंग रोड, मनोहर टाकीज के सामने समेत शहर के आधा दर्जन क्षेत्रों में बैनर व पोस्टर फटकर सीधे बिजली के तार पर जा गिरे। इसके चलते सप्लाई प्रभावित हुई। इसी तरह राजकिशोर नगर और कुम्हारपारा रोड में पेड़ गिर गया। इस वजह से भी बिजली सप्लाई ठप हो गया।

एक के बाद एक जैसे ही बिजली बंद होने की सूचना मिलती गई अमला उसे सुधारने का प्रयास करता रहा। लेकिन नेहरू नगर हो या तोरवा मंडल दोनों जगहों पर स्टाफ व संसाधन की भारी कमी है। इसलिए समय पर सुधार नहीं हो सका और लोगों को परेशानी होती रही। यह पहली बार नहीं है जब अंधड़ की वजह से बिजली सप्लाई प्रभावित हुई। पहले भी जब-जब मौसम का मिजाज बिगड़ा है सबसे पहले बिजली व्यवस्था को प्रभावित किया।

कई क्षेत्रों में ट्रांसफार्मर में तकनीकी खराबी आने की शिकायत मिली। डेढ़ घंटे तक तो शहर में अंधेरा छाया रहा। पर कई क्षेत्र ऐसे थे, जहां देर रात तक बिजली सप्लाई शुरू हो सकी। ऐसे क्षेत्र के रहवासियों में बिजली कंपनी की लचर व्यवस्था को लेकर खासा नाराजगी दिखी।

राज किशोर नगर में लगा जाम

अंधड़ की वजह से राजकिशोर नगर में गुलमोहर का पेड़ सीधे सड़क पर आ गिरा। इसकी वजह सड़क में आवाजाही रुक गई और देखते ही देखते जाम लग गया। इस जाम को बहाल करने के लिए पुलिस पहुंची और न यातायात विभाग का अमला। लोगों को खुद से संभलकर आवाजाही करनी पड़ी।

अंधेरे के कारण खतरा

ब्लैक आउट होने के कारण कुछ जगहों में खतरा भी मंडराने लगा था। दरअसल यहां नाली, नाले से लेकर खंभे और भवन निर्माण सामाग्री सड़क पर बिखरी पड़ी हुई थी। इन कार्रवाई का नियम है पर निगम नियमित कार्रवाई नहीं करती। अंधेरे की वजह से लोग इनसे टकराने बच गए।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close