बिलासपुर। 46 हजार शिक्षकों को पदोन्नति का लाभ मिलने का रास्ता साफ हो गया है। लंबे इंतजार के बाद शिक्षकों को पदोन्नति मिलेगी। डीपीआइ के निर्देश पर संयुक्त संचालकों की ओर से सूची बनाई जा रही है।

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा, प्रदेश संयोजक सुधीर प्रधान, वाजिद खान, प्रदेश उपाध्यक्ष हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, बसंत चतुर्वेदी, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, डा. कोमल वैष्णव, प्रांतीय सचिव मनोज सनाढ्य प्रांतीय कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र पारीक ने कहा है कि वर्तमान में जारी पदोन्नति प्रक्रिया छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के थीम पर वन टाइम रिलेक्सेशन के तहत किया जा रहा है।

प्रदेश में करीब 46 हजार शिक्षक संवर्ग को पदोन्नति मिलना है। डीपीआइ के निर्देश पर संयुक्त संचालक पदोन्नति के लिए वरिष्ठता सूची बनाने के लिए शासन नियमों के अनुसार स्पष्ट आदेश जारी कर रहे है।

संयुक्त संचालक रायपुर के बाद दुर्ग, सरगुजा, बिलासपुर के संभागीय संयुक्त संचालक वरिष्ठता सूची बनाने निर्देश जारी कर चुके है, सभी के आदेश में एकरूपता है। स्वाभाविक है कि लंबे समय बाद व संविलियन के बाद पहली बार पदोन्नति प्रक्रिया में हर एक एलबी संवर्ग का शिक्षक नियमों में अपने पदोन्नति का तर्क के साथ प्रयास कर रहे है।

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा ने कहा है कि एसोसिएशन का स्पष्ट सोच है कि बाधा रहित पदोन्नति हो, क्योंकि वर्तमान पदोन्नति के लिए वन टाइम रिलेक्सेशन का थीम टीचर्स एसोसिएशन का ही है।

लिहाजा एसोसिएशन ने लगातार पारदर्शिता व एकरूपता अपनाकर पदोन्नति देने अधिकारियों को पत्र लिखकर चर्चा किया है। बाधा रहित पदोन्नति कराना टीचर्स एसोसिएशन का उद्देश्य है, पात्र शिक्षक एल बी संवर्ग के पदोन्नति होने से पदोन्नति प्रक्रिया बाधित नहीं होगी।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local