बिलासपुर। Vaccination in Bilaspur: जिले के रीजनल वैक्सीन सेंटर में अब कोविशील्ड की मात्र 20 हजार डोज ही बची हैं। ऐसे में आने वाले तीन से चार दिनों में वैक्सीन खत्म होने की आशंका है। यदि समय पर दूसरी खेप नहीं आई तो वैक्सीन संकट गहरा जाएगा और जिले में टीकाकरण प्रभावित हो सकता है।

मौजूदा स्थिति में प्रतिदिन 18 प्लस, 45 प्लस व 60 प्लस के साथ फ्रंटलाइन वर्कर को मिलाकर पांच से छह हजार लोगों को कोविशील्ड का टीका लगाया जा रहा है। जिले को शनिवार को वैक्सीन की 26 हजार डोज मिली। वहीं रविवार को टीकाकरण प्रभावित होने की वजह से कम टीके लगे, लेकिन सोमवार को तकरीबन पांच हजार को टीका लगाया गया है।

ऐसे में अब लगभग 20 हजार डोज बचे हैं जो ज्यादा से ज्यादा तीन से चार दिन तक चलेगा। यदि इस बीच जिले को टीका नहीं मिला तो एक बार फिर टीकाकरण प्रभावित हो सकता है। मालूम हो कि टीकाकरण को बिना किसी परेशानी के चालू रखने के लिए एक लाख डोज की मांग की गई है। लेकिन, इस डिमांड को अब तक ना ही मंजूरी मिली है और ना ही जिले को मांग के अनुपात में डोज मिल पाई है। ऐसे में अब टीकाकरण थम सकता है।

दूसरी डोज वालों को संकट

कोविशील्ड वैक्सीन का स्टाक कम होने का सीधा असर दूसरी डोज का टीका लगवाने वालों पर पड़ेगा। क्योंकि नियमानुसार जो लोग पहले जिस कंपनी की वैक्सीन लगवाए हैं, उन्हें दूसरी डोज भी उसी कंपनी की लगवानी है।

कोविशील्ड की वैक्सीन की कमी है। ऐसे में दूसरी डोज लगवाने वालों के लिए उसे सुरक्षित रख लिया गया है। सेंटर प्रभारियों को निर्देशित किया गया है कि सावधानी से डोज का उपयोग करें। नया खेप आने के बाद ही स्थिति सामान्य हो सकेगी।

डा. प्रमोद महाजन, सीएमएचओ

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags