बिलासपुर। Bilaspur News: जोनल स्टेशन स्थित पार्सल कार्यालय में पार्सल लाने और ले जाने में परेशानी नहीं होगी। निर्माणाधीन ब्रिज व लिफ्ट के लिए लगाए गए लोहे के पिलर के कारण जो दिक्कत आ रही थी उसका वैकल्पिक उपाय ढूंढ लिया गया है। इसके लिए कमर्शियल व इंजीनियरिंग विभाग के कर्मचारियों ने सर्वे किया है। इसमें यह तय किया गया है कि जावक गोदाम की दीवार तोड़कर रास्ता बनाया जाएगा। जल्द ही इंजीनियरिंग विभाग दरवाजा बनाने का काम शुरू करेगा।

गेट क्रमांक एक में भी यात्रियों की सुविधा के लिए लिफ्ट, चलित सीढ़ी के अलावा फुट ओवरब्रिज बनाया जा रहा है। निर्माण कार्य सालभर से जारी है। इस निर्माण से स्टेशन में कई तरह के नुकसान हुए। पहले 30 से अधिक पेड़ों को काटना पड़ा। अब दूसरी दिक्कत पार्सल कार्यालय तक सामान नहीं पहंुचने की आ रही है। कार्यालय से सटे हुए तीन पिलर हैं। पहले ये नहीं थे तो प्लेटफार्म से सीधे रास्ता था।

हमाल बड़ी आसानी से सामान को पार्सल कार्यालय के जावक गोदाम तक ले आते थे और आवक गोदाम में भी पार्सल रखने में दिक्कत नहीं होती थी। पिलर की वजह से रास्ता बंद हो गया है। केवल एक छोटी गली जैसा रास्ता छूटा है। लेकिन यह सीधा नहीं है। प्लेटफार्म से पार्सल कार्यालय तक ढलान है। इसकी वजह से ठेले में पार्सल को लादकर न तो ट्रेन से लाते बनता है और न बुक पार्सल को ट्रेन तक ले जाते बन रहा है।

स्थिति यह है कि ढाल की वजह से ठेला नहीं संभल पाता है। इसके कारण पार्सल समेत ठेला पलट जाता है या फिर सामने की दीवार में जाकर टकराता है। इस परेशानी को जिम्मेदार अधिकारियों को अवगत कराया गया। उनके निर्देश पर ही दोनों विभाग की टीम बनाकर सर्वे करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने सर्वे पूरा कर लिया है। इसमें दीवार तोड़कर रास्ता बनाने को ही वैकल्पिक व्यवस्था बताई है।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस