बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोटा- बेलगहना मार्ग पर तेंदुआ देखने की पुष्टि होने के बाद वन विभाग ने वन्य प्राणी विचरण क्षेत्र का बोर्ड लगाकर आगाह कर रहा है। जिससे की राहगीर व ग्रामीण सतर्क रहे। बोर्ड के जरिए यह भी अपील की जा रही है कि सावधानी के साथ समूह में आवाजाही करें। जंगल के आसपास या यहां से गुजरे रास्तों का अकेले बिल्कुल भी उपयोग न करें। इससे खतरा हो सकता है।

सप्ताहभर से इस मार्ग पर तेंदुआ है। ग्रामीणों के अलावा राहगीरों को नजर आ चुका है। इतना ही नहीं जब वन अफसरों ने जांच की तो उन्हें भी मल व पंजों के निशान मिले। इसलिए विभाग ग्रामीणों की सुरक्षा को लेकर सजग हो गया है। जिन जगहों पर तेंदुआ दिखा है। अब वहां सूचना बोर्ड लगाकर बता रहे हैं कि यह वन्य प्राणी विचरण क्षेत्र हैं। ताकि लोग सतर्क रहें। कुछ जगहों पर प्रतिबंधित क्षेत्र का बोर्ड भी लगाया जा रहा है, ताकि कोई प्रवेश न करें और राहगीर भी रूकने का प्रयास न करें।

इससे किसी तरह की दुर्घटना हो सकती है। मालूम हो कि सबसे पहले कुछ ग्रामीण व राहगीरों ने तेंदुआ को देखा था। पहले दिन विभाग को यकीन नहीं हुआ। इसलिए इसकी पुष्टि की गई। अब विभाग इसे गंभीरता से ले रहा है। पंचायत की मदद से मुनादी भी कराई जा रही है। ग्रामीणों से भी मुलाकात कर उन्हें सतर्कता बरतने के लिए कहा जा रहा है, उन्हें समझाया जा रहा है कि अकेले घर से बाहर न निकले।

खासकर बच्चों को अकेले घर से बाहर न निकलने दें। इसके अलावा चराई के लिए मवेशियों को लेकर जंगल के अंदर न जाएं। विभाग द्वारा सूचना बोर्ड के साथ- साथ कैमरे भी लगाने का निर्णय लिया गया है। एक- दो दिनों में कैमरे लगा दिए जाएंगे।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local