बिलासपुर। हाथियों का दल रविवार को मध्य प्रदेश पहुंच गया है। वन परिक्षेत्र पश्चिम करंजिया में जमकर तबाही मचाई। कई किसानों की गेंहू को रौंद दिया गया है। संबंधित रेंज का अमला हाथियों को वापस छत्तीसगढ़ में खदेड़ने की जद्दोजहद कर रहा है। इसकी सूचना भी अचानकमार टाइगर रिजर्व को दी गई है।

हाथियों का यह दल करीब पांच दिन पहले बेलगहना वन परिक्षेत्र से घुसा है। पहले दो दिन तो वन परिक्षेत्र के जंगल में जमे रहे। अब लगातार स्थान बदल रहे हैं। स्थान बदलने के साथ थोड़े उग्र भी हो रहे हैं। शनिवार को जहां खुड़िया रेंज के झिरिया में फसल को तबाह किया। वहीं रात में अचानकमार टाइगर रिजर्व में लौट गए।

उम्मीद थी कि जिस रास्ते से पहुंचे थे लौट जाएंगे। लेकिन रात में हाथियों ने रास्ता बदल दिया और छत्तीसगढ़ से बाहर मध्य प्रदेश पहुंच गए। रविवार सुबह 12 हाथियों का यह दल वन परिक्षेत्र पश्चिम करंजिया में पहुंच गया। बोईरहा गांव में जब हाथियों ने आतंक मचाना शुरू किया तब वन अमले को सूचना मिली।

मालूम हो कि कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन है। इसकी वजह से किसान फसल भी नहीं काट पा रहे हैं। हाथियों की अचानक धमक से बोईरहा समेत आसपास के गांव में दहशत है। छत्तीसगढ़ व मध्य प्रदेश की सीमा के गांवों का भी यही हाल है।

अचानकमार टाइगर रिजर्व के अधिकारियों के अनुसार हाथियों के मध्य प्रदेश में पहुंचने की सूचना मिली है। देर रात तक वापस छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए अमले को सजग रहने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही उन्हें निगरानी करने के लिए भी कहा गया है।

मालूम हो कि मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे जिस क्षेत्र में हाथियों का दल पहुंचा है वहां पहले भी वन्यप्राणी पहुंचते रहे हैं। अचानकमार टाइगर रिजर्व होने के कारण वन्यप्राणी लगातार मूवमेंट करते रहते हैं। बाघ के शिकार की घटना भी सामने आई थी।

दोहरी समस्या, घर के अंदर भी खतरा

कोरोना वायरस को लेकर लोग दहशत में हैं। लॉकडाउन के कारण सभी घर के अंदर है। जिस तरह हाथियों द्वारा आतंक मचाया जा रहा है उसे लेकर घर के अंदर भी ग्रामीण दहशत में रात गुजार रहे हैं। वायरस व हाथी की वजह से ग्रामीण दोहरी समस्या से जूझ रहे हैं।

मानिटरिंग के अलावा विभाग के पास दूसरा विकल्प नहीं

अचानक पहुंचे इन हाथियों को खदेड़ने के लिए वन विभाग के पास विकल्प नहीं है। केवल मानिटरिंग कर रहे हैं। साथ ही जहां- जहां हाथियों की दस्तक हो रही है वहां के अमले को सूचना दी जा रही है ताकि ग्रामीणों को सूचना देकर सतर्क रहने की अपील कर सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना