बिलासपुर।Bilaspur Crime: कोटा क्षेत्र के नवागांव सल्का में हत्या के मामले में गवाही देने पर जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने घटना की शिकायत कोटा थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर जांच कर रही है।

नवागांव सल्का निवासी जवाहर लाल यादव ने पुलिस को बताया कि साल भर पहले 18 दिसंबर 2019 को गांव के पवन जायसवाल और विकास जायसवाल ने एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी। इसके बाद मामले को दुर्घटना का रूप देने के लिए शव को रेलवे ट्रैक पर रख दिया था। मामले में पुलिस ने जुर्म दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। मामला वर्तमान में न्यायालय में विचाराधीन है।

हत्या के मामले में जवाहर का भाई देवारी लाल, गांव का चंद्रशेखर जायसवाल, रामकृष्ण पालके, मोहित जायसवाल गवाह है। बीते 10 जनवरी को राम भगत जायसवाल उसका बेटा बजरंग जायसवाल घर जवाहर के घर आए। इस दौरान जवाहर अपने दो भाइयों गोरेलाल और देवारी लाल के साथ घर में बैठा था। राम भगत ने तीनों भाइयों से हत्या के मामले में बातचीत शुरू कर दी।

इस दौरान राम भगत ने कहा की देवारी इस मामले में गवाह है। साथ ही कोर्ट में हत्या के मामले में गवाही नहीं देने की बात कही। इस पर देवारी ने कहा कि मामला हत्या का है। मैंने जो कुछ पुलिस को बताया है वही बात न्यायालय में भी कहूंगा। इसी बात को लेकर राम भगत नाराज हो गया। उसने कोर्ट में गवाही देने पर ठीक नहीं होगा बोलते हुए धमकी दी है। पीड़ित जवाहर ने घटना की शिकायत कोटा थाने में की है इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर जांच कर रही है

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags