बिलासपुर। पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस, खाद्य पदार्थों के बढ़ते दाम के विरोध में नौजवान सभा ने धरना प्रदर्शन किया। रैली निकालकर कलेक्टर डा. सारांश मित्तर को ज्ञापन सौंपा गया है। इसके अलावा बढ़ती बेरोजगारी व सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों क निजीकरण के खिलाफ हल्ला बोला। पेसेंजर ट्रोनों को यात्री गाड़ियों की परिचालन जल्द शुरू करने, हसदेव अभयारण्य बचाने के लिए नेहरू चौक प्रदर्शन किया गया।

अखिल भारतीय नौजवान सभा जिला परिषद राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखजिंदर महेश्वरी ने कहा कि भाजपा सरकार देश को बांटने की राजनीति कर रही है। महंगाई में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। इसके अलावा देश में बरोजगारी की समस्या बढ़ती जा रही है। महंगी वस्तुओं के कारण आम जनता की हालत खराब है। घर संभालने वाली महिलाएं परेशान हैं। परिवार का खर्च उठा पाना मुश्किल हो रहा है।

बच्चों की पढ़ाई शुल्क भी बढ़ा दी गई है। पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने के कारण आम जनता को भारी परेशानी हो रही है। दूसरी ओर रोजगार खत्म हो रहा है। इनकम में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हो रही है। सिर्फ महंगाई बढ़ती जा रही है। नौजवानों ने कहा कि समय रहते सरकार महंगाई पर नियंत्रण कर लें। अन्यथा आने वाले समय में नुकसान उठाना पड़ सकता है।

शिक्षित बेरोजगार युवाओं के पास आगे बढ़ने के कोई साधन नहीं हैं। उनके पास पैसा तक नहीं है जिससे वे व्यापार शुरू कर सके। व्यापार शुरू करने के लिए सराकर द्वारा कई प्रकार की योजना संचालित हो रही है। लेकिन जटिल प्रक्रिया के चलते 90 प्रतिशत युवाओं को योजना का लाभ नहीं मिल पाता है।

एआइएसएफ के उपाध्यक्ष धीरज शर्मा और भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता काम. पवन शर्मा ने बात रखी। उन्होंने कहा कि पेट्रोल डीजल, खाद्य पदार्थ और रसोई गैस के दाम कम किए जाए। बिलासपुर व छत्तीसगढ़ में निरस्त सभी यात्री गाड़ियों का परिचालन जल्द से जल्द शुरू किया जाए। इस दौरान विक्रांत शर्मा, संत कुमार निराला समेत सैकड़ों की संख्या में नौजवान उपस्थित थे।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close