कोंडागांव (नईदुनिया न्यूज)। जिले के धनोरा थाना अंतर्गत हिचका गांव में शनिवार को एक किशोरी का शव कब्र से बाहर निकाल कर प्रशासनिक अधिकारियों ने फोरेंसिक जांच के लिए जगदलपुर भेजा है। थाना धनोरा से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम हिचका में तीन माह पूर्व 22 अगस्त को एक किशोरी ने अपने घर के आंगन में लगे इमली के पेड़ के तने पर फांसी लगा ली थी, जिसे पुलिस को बगैर सूचना दिये और बगैर पोस्टमार्टम कराये रस्मों रिवाज के अनुसार दफना दिया गया था। मामला उजागर होने पर 15 अक्टूबर को तहसीलदार केशकाल क्षमा यदु ने मृतका के स्वजन एवं ग्राम प्रमुखों का बयान लिया था जिसमें यह स्वीकार किया गया था कि पुलिस को बगैर सूचना दिए शव को दफना दिया गया। नायब तहसीलदार के प्रतिवेदन एवं अनुविभागीय दंडाधिकारी केशकाल के आदेश के पश्चात अब शव उत्खनन हुआ है।

पखवाड़े भर पूर्व धनोरा थाना के ही छोटे ओड़ागांव में भी गैंगरैप पीड़िता द्वारा आत्महत्या के मामले में भी पुलिस को बगैर सूचित किए शव को दफना दिया गया था। जिसके शव को निकलवाकर जब पुलिस ने जांच शुरू किया था तो गैंगरैप का मामला उजागर हुआ जिससे पूरे प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है।

इसी दरम्यान हिचका का यह मामला उजागर हुआ जिसके बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को प्रतिवेदन प्रेषित किया जिसकी जांच अनुविभागीय अधिकारी राजस्व ने नायब तहसीलदार से करवाने के बाद शव निकलवाकर मृत्यु के कारंण की पुष्टि करने की अनुमति प्रदान किया। शनिवार को कार्यपालिक मजिस्ट्रेट बतौर नायब तहसीलदार सुश्री क्षमा यदु की उपस्थिति में दोपहर शव को निकलवाकर धनौरा लाकर पोस्टमार्टम करवाया गया।्र

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस