बीजापुर। जिले में संचालित नक्सली विरोधी अभियान के दौरान थाना उसूर, केरिपु 196, 229 का बल सीतापुर से उसूर की ओर एरिया डामिनेशन पर निकली थी। अभियान के दौरान टेकमेटला पहाड़ी के पास 2 संदिग्धों को लुकते छिपते देखा गया। घेराबंदी कर पकड़े गये संदिग्धों से पुछताछ पर अपना नाम नुपो हुंगी उसूर, नुपो गंगा थाना उसूर बताया। जो उसूर थानें के रिकार्ड में अपराध क्रमांक 04/2019 के नामजद आरोपी है। सीतापुर एवं उसूर के मध्य 15 सितंबर 2019 को कुशवाहा यात्री बस में आगजनी की घटना में शामिल थे। पकड़े गये संदिग्धों के विरूद्ध थाना उसूर में वैधानिक कार्यवाही उपरान्त न्यायिक रिमाण्ड पर न्यायालय बीजापुर पेश किया गया है।

इससे पहले छत्‍तीसगढ़ के नक्‍सल प्रभावित बीजापुर जिले में संचालित नक्सल विरोधी अभियान के तहत 6 नवंबर को थाना बासागुड़ा से डीआरजी, थाना एवं एसटीएफ की संयुक्त पार्टी बलम नेण्ड्रा की ओर निकली थी। अभियान के दौरान संयुक्त पार्टी ने बलम नेण्ड्रा के जंगलों से जीडी नाला के पास विस्फोटक सहित दो संदिग्ध को पकड़ा था। उन्होंने अपना नाम कारम लच्छू उर्फ नेती उर्फ सुबन्नाा बलम नेंड्रा थाना बासागुड़ा एवं बंजामी हुंगा नेंड्रा थाना बासागुड़ा बताया है। तलाशी में इनके पास रखे थैला से आठ नग जिलेटिन, कार्डेक्स वायर, सेफ्टी फ्यूज, बरामद किया गया। विस्फोटक के अवैध परिवहन के संबंध कोई पर्याप्त आधार प्रस्तुत नहीं किये पर थाना आवापल्ली से डीआरजी, थाना एवं केरपिु 229 का संयुक्त बल कमरगुड़ा, पुन्नाूर, नेंड्रा गुटटूम की ओर निकला था।

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close