दंतेवाड़ा (नईदुनिया प्रतिनधि)। दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार की डीपी में तस्वीर लगाकर पैसे वसूलने का प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर ने दंतेवाड़ा एसपी से उक्त नंबर सहित इस प्रकरण की शिकायत की है।

इंटरनेट मीडिया में दूसरों की डीपी लगाकर फर्जीवाड़ा करना अथवा लोगों से पैसे मांगना ठगी का सबसे सरल ढंग बनते जा रहा है। ऐसे ढेरों प्रकरण हुए जिसमें लोगों ने ठग को अपना परिचित समझकर पैसे भी दे दिए। इस बीच ठगों का साहस अब इतना बढ़ गया है कि वे कलेक्टर तक को नहीं छोड़ रहे हैं।

दंतेवाड़ा कलेक्टर के नाम पर ठगी का ऐसा ही प्रयास किया गया है। हैकर ने वाट्सएस की डीपी में कलेक्टर की फोटो लगा रखी है। उसने डीपी वाले नंबर से कई अधिकारियों को पैसों के लिए संदेश भेजे। अधिकारियों से इस तरह की जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर ने जब इसकी जांच करवाई तब ये सही पाया गया।

कलेक्टर ने वाट्सएप पर मोबाइल नंबर-8179240441 की स्क्रीन शाट लेकर दंतेवाड़ा एसपी से इसकी शिकायत की है। फोन करने पर उक्त नंबर आउट आफ सर्विस बता रहा है। कलेक्टर ने कहा कि इस मामले की वो एफआईआर भी दर्ज करवाएंगे।

बता दें कि कलेक्टर के नाम से इस तरह से पैसे की वसूली का ये पहला मामला है। कलेक्टर विनीत नंदनवार ने अपने मोबाइल में एक स्टेटस डालकर भी सभी को सचेत किया है। उन्होंने बताया कि इस सबंध में दंतेवाड़ा एसपी सिद्धार्थ तिवारी को मोबाइल पर सूचना दे दी गई है। उन्होंने कहा कि यदि उनके पास भी इस तरह का कोई संदेश आता है तो वे उन्हें सूचित करें।

साइबर ठगों के विरुद्ध बड़े शहरों में इस तरह की शिकायतें आती है। दंतेवाड़ा जैसे शहर में अधिकारी, वो भी कलेक्टर की तस्वीर लगाकर ठगी करने का ये पहला प्रकरण है। कलेक्टर के साथ हुई इस घटना के बाद अब पुलिस भी सतर्क हो गई है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close