दंतेवाड़ा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के बारसूर थाना क्षेत्र मंगनार रोड गुफा चौक के पास रविवार की सुबह एक अज्ञात ग्रामीण का शव देखा गया, जिसे नक्सली पर्चा में कांकेरनार निवासी दशाराम बताया गया है। नक्सलियों ने पर्चा में युवक को पुलिस का मुखबिर बताते हत्या करना स्वीकारा है।

जानकारी के अनुसार पूर्वी बस्तर डिवीजन के नक्सलियों ने ग्रामीण की धारदार हथियार से हत्या कर उसका शव मंगनार रोड गुफा चौक के पास फेंक दिया। घटनास्थल के पास भारी मात्रा में बैनर और पोस्टर भी लगाये गये। नक्सलियों ने मृतक ग्रामीण पर पुलिस की मुखबिरी का आरोप लगाया है। वारदात की पुष्टि एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने करते बताया कि नक्सली पर्चा से ही ज्ञात हुआ है कि युवक नदी पार के कांकेरनार का निवासी है। उन्होंने मारे गए युवक का पुलिस मुखबिर होने से इंकार किया है। इधर पर्चा में नक्सलियों के आमदाई एरिया कमेटी का उल्लेख किया गया है जिसमें युवक को कांकेरनार निवासी बताते कहा गया कि वह पुलिस के लिए मुखबिरी करता था जिसे नक्सली संगठन के पीएलजीए सदस्यों ने पकड़कर पूछताछ की थी। इसके बाद हत्या की है। युवक पर आरोप है कि दशाराम ग्राम मंगनार, कोसलनार इलाके के पहाड़ों में नक्सलियों के स्थानों की रेकी करता था और इसकी सूचना पुलिस के आला अधिकारियों तक पहुंचाता था इसलिए पीएलजीए की सेना ने जन अदालत में पेशकर सात फरवरी को उसे मौत की सजा सुनाई थी। अन्य नक्सली पर्चा में ग्रामीणों को पुलिस मुखबिर बनने से मना करते असली रोजगार के लिए संघर्ष करने, जल जंगल जमीन को बचाने की अपील की है। ज्ञात हो कि नक्सली 4 फरवरी से भूमकाल सप्ताह मना रहे हैं।

रात भर भीगता रहा शव

नक्सलियों द्वारा हत्या के बाद शव मंगनार रोड में फेंक दिया। यहां रात भर शव बेमौसम हुए बारिश में रात भीगता रहा। सुबह बड़ी संख्या में फोर्स पहुंचकर नक्सली नेता का शव अपने कब्जे मे लिया, और पीएम के लिए भिजवाया। मौके पर मिले पर्चे भी बारिश में भीग गए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket