दंतेवाड़ा। नक्सल वर्दी पहनकर नकली एके 47 के सहारे एक ही रात में दो गावों के छह घरों से लूट को अंजाम देने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। इस मामले में ए बालिग गोपाल कड़ती व तीन अपचारी बालकों समेत कुल चार लोग पकड़े गए हैं। वारदात का मास्टरमाइंड टिकनपाल निवासी चंदू कर्मा फरार है। पुलिस की अलग-अलग टीमें उसकी तलाश में जुटी हैं।

बचेली थाना प्रभारी अमित पाटले ने बताया कि शुक्रवार की रात बचेली थाना क्षेत्र के दुगेली व पाढ़ापुर गावों में छह घरों से लूट की गई थी। आरोपितों ने ऐसे घरों को निशाना बनाया जिनके पास ट्रेक्टर व पोकलेन आदि थे, यानी जो समृद्ध थे। लेवी वसूली का यह तरीका नक्सली अपनाते हैं। वह भी ट्रेक्टर, टीवी आदि से यह तय करते हैं कि किससे कितनी वसूली करनी है। आरोपितों ने नक्सल वर्दी के नाम पर एनएसीसी की वर्दी पहन रखी थी। नकली एके 47 दिखाकर खुद को नक्सली बताया। नक्सलियों की तर्ज पर लूट के शिकारों के साथ बेरहमी से मारपीट की और माल लेकर चंपत हो गए।

इसके पहले गोमपाड़ गांव में भी इस तरह की घटना हुई थी। शुक्रवार रात को दो गावों में लूट की सूचना जब पुलिस को मिली तो तत्काल इसकी जानकारी एसपी डा अभिषेक पल्लव, सीएसपी देवांश राठौर समेत उच्चाधिकारियों को दी गई। दंतेवाड़ा जिले में नक्सलवाद समाप्ति की ओर है। एसपी ने आदेश दिया कि इसे नक्सल घटना मानकर न देखा जाए। मामले की तह तक जाने के लिए टीम बनाने का निर्देश उन्होंने जारी किया। लूट के शिकार दुगेली के कैलाश कर्मा ने बताया कि उनके घर पर रात करीब तीन बजे तीन लोग आए थे। उनकी पिटाई की। उनकी मां से आलमारी खोलने को कहा और 20 हजार रूपये लूटकर चले गए।

हुलिए के आधार पर संदेहियों तक पहुंची पुलिस

पुलिस ने तफ्तीश शुरू की और आरोपितों के हुलिए के आधार पर संदेहियों तक पहुंची। कुछ लोगों को पकड़कर सख्ती से पूछताछ की गई तो पता चला कि आसपास के गांवों के लड़कों ने ही नक्सली बनकर लूटपाट की है। थाना प्रभारी पाटले ने बताया कि आरोपितों ने चंदू कर्मा के साथ बचेली स्थित किराए के मकान में बैठक कर वारदात की योजना बनाई थी। गिरफ्तार आरोपितों की निशानदेही पर लूटा गया 15 हजार रूपया नगद व अन्य सामान भी बरामद किया गया है।

जांच में जुट पुलिस

आरोपितों ने एक घर से 20 हजार, एक से 40 हजार व एक अन्य घर से साढ़े सात हजार रूपये लूटे थे। उन्होंने जरूरी सामान व मोबाइल भी लूट लिए थे। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। इस तरह के पुराने मामले भी खंगाले जा रहे हैं। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी पाटले के साथ एसआइ केशव ठाकुर व स्टाफ की भूमिका रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local