दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के जिले दंतेवाड़ा में माओवादियों के लिए लोन वर्राटू (घर वापस आइये) अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत आज आठ इनामी सहित कुल 10 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। बता दें लोन वर्राटू अभियान के तहत् अब तक 145 ईनामी माओवादी सहित कुल 578 माओवादियों ने आत्मसमर्पण कर समाज के मुख्यधारा में जुड़ चुके हैं। लोन वर्राटू (घर वापस आईये) अभियान का मुख्य उद्देश्य है कि वह व्यक्ति जो नक्सली संगठन में सक्रिय हैं उन्हें आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने का मौका दिया जाता है। कमलोचन कश्यप डीआईजी पुलिस दंतेवाड़ा रेंज तथा पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा सिद्धार्थ तिवारी के द्वारा नक्सली संगठन में सक्रिय नक्सलियों से आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने के लिए लगातार आह्वान कर अपील किया जा रहा है।

इसी कड़ी में आज मलांगेर एरिया कमेटी अन्तर्गत बुरगुम पंचायत मिलिशिया प्लाटून कमाण्डर बण्डी उर्फ कोल्ला मड़काम उम्र 30 वर्ष निवासी बुरगुम पेरमापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य सोना मड़काम उम्र लगभग 53 वर्ष निवासी नीलावाया मल्लापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य हेमन्त कवासी उम्र लगभग 26 वर्ष निवासी नीलावाया मल्लापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य दुड़वा कोर्राम उम्र लगभग 30 वर्ष निवासी नीलावाया मल्लापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य मासा मण्डावी उम्र लगभग 20 वर्ष निवासी नीलावाया मल्लापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य लखमा मण्डावी उम्र लगभग 31 वर्ष निवासी नीलावाया मल्लापारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य नंदा माड़वी उम्र लगभग 33 वर्ष निवासी नीलावाया पटेलपारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य देवा उर्फ दीपक कश्यप उम्र लगभग 31 वर्ष निवासी नीलावाया गोर्रेपारा थाना अरनपुर, नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य मासा माड़वी उम्र लगभग 30 वर्ष निवासी नीलावाया पटेलपारा थाना अरनपुर एवं नीलावाया पंचायत मिलिशिया सदस्य बुधरा कश्यप उम्र लगभग 36 वर्ष निवासी नीलावाया पटेलपारा थाना अरनपुर शामिल हैं।

बता दें ये सभी माओवादी संगठन के खोखली विचारधारा से तंग आकर लोन वर्राटू (घर वापस आईये अभियान) एवं छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास योजना से प्रभावित होकर समाज के मुख्यधारा से जुड़कर विकास में सहयोग करने की इच्छा व्यक्त करते हुए मुख्य धारा में लौट आये।

Posted By: Vinita Sinha

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close