Dantewada News: दंतेवाड़ा। कटेकल्याण से गंभीर हालत में लाए गए एक युवक की गुरुवार की रात जिला अस्पताल में मौत हो गई। इसे लेकर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें मृतक के परिजन डॉ. जे. पात्र पर आरोप लगा रहे हैं कि कई बार दरवाजा खटखटाने के बाद भी वे अपने कक्ष से नहीं निकले। सोते रहे। इससे इलाज नहीं मिल पाया। वहीं वीडियो में नशे में नजर आ रहे डॉक्टर कह रहे हैं कि वे मुर्दे को भी जिंदा कर देते हैं। सीएचएमओ ने डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। देर शाम कलेक्टर ने डॉक्टर को निलंबित कर दिया है।

शरीर में दर्द की शिकायत पर कटेकल्याण के युवक अजमन ठाकुर को स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया गया था। हालत ज्यादा बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। युवक के परिजनों ने बताया कि अजमन को जब जिला अस्पताल लाया गया तो डॉ. पात्रे ड्यूटी रूम में नहीं थे। काफी खोजने के बाद एक कक्ष में जो भीतर से बंद था।

कई बार दरवाजा खटखटाने के बाद भी वे नहीं उठे। जब लौटे तब तक मरीज की तड़पते-तड़पते मौत हो चुकी थी। वायरल वीडियो में डॉ. पात्रे नशे की हालत में कह रहे हैं- मैं मुर्दों को भी जिंदा कर देता हूं। मौजूद स्टाफ भी उसकी बातों का समर्थन करते यस सर, हां सर कह रहे थे। हालांकि इस मामले में मृतक के परिजनों ने पुलिस में किसी प्रकार की शिकायत न कर शव लेकर घर रवाना हो गए। लेकिन वायरल वीडियो के आधार पर कलेक्टर ने डॉ. पात्रे को निलंबित कर दिया है।

मामला काफी गंभीर है। वायरल वीडियो और स्टाफ के बयान के आधार पर डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। मामले की जांच की जाएगी। स्टाफ से लिखित में भी बयान लिया जाएगा।

- डॉ. एसपीएस शांडिल्य, सीएचएमओ

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस