Dantewada News: दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा क्षेत्र में वर्षों पहले नक्सलियों ने काट दिया था जिसे ग्रामीणों ने पाटने की हिम्मत नहीं जुटाई और प्रशासन भी ध्यान नहीं दिया। इसके बाद सरपंच खुद इन कटी सड़कों को पाटने में जुटे गए। ऐसी ही है एक ग्राम पंचायत तनेली जो ग्राम पंचायत अरनपुर से अलग होकर नवीन पंचायत बनाई गई है। तनेली गांव अरनपुर मुख्य सड़क से करीब चार किलोमीटर है।

चार किलोमीटर सड़क को नक्सलियों ने बीस से अधिक जगह से काट दिया था। सड़क कटी होने से तनेली तक एंबुलेंस सहित दूसरी कोई भी वाहन नहीं पहुंच पाती थी। गांव में कोई भी बीमार होने पर मुख्य सड़क तक कंवाड में मरीजों को ढो कर लाना पड़ता है। सरकारी राशन भी नही पहुंच पाता है। गांव तक राशन लेने ग्रामीणों को दश किलोमीटर कुटरेम तक जाना पड़ता है।

गांव के लोग परेशानी उठा ले रहे थे

तनेली के सरपंच महादेव मुचाकी ने बताया कि नक्सलियों ने काट रखी थी सड़क गांव के लोग परेशानी उठा ले रहे थे पर सड़क के गड्ढों को नहीं भर रहे थे। सरपंच ने बताया ग्राम पंचायत में देवगुड़ी, गोठान बनने की स्वीकृति मिली हुई है पर सड़क कटी होने से ये निर्माण नही हो पा रहें हैं। सरपंच ने बताया चार किलोमीटर के पूरे गड्ढे भर दिए गए हैं। अब तनेली गांव में भी विकास कार्य हो पाएंगे।

विकास चाहते हैं ग्रामीण

दंतेवाड़ा जिले में अब नक्सल प्रभवित गांव के लोग भी विकास चाहते है, तनेली गांव की सरपंच की तस्वीर यही बांया कर रही है। जिले के कुआकोंडा, कटेकल्याण दोनों ब्लाक में ज्यादा तर ग्राम पंचायत नक्सल प्रभवित हैं पर अब इन गांवों की तस्वीर बदल रही हैँ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local