दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान नक्सलियों के बारूदी विस्फोट में जान गंवाने वाले भाजपा विधायक भीमा मंडावी की पत्नी ओजस्वी मंडावी ने कांग्रेस सरकार पर भेदभाव करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि चार माह बाद भी पति का पेंशन शुरू नहीं हुआ है। इससे परिवार काभरण-पोषण करना मुश्किल हो गया है।

दंतेवाड़ा में पत्रकारों से चर्चा में ओजस्वी ने कहा है कि कांग्रेस सरकार दिवंगतों के परिवारों का सम्मान करना नहीं जानती। स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम तक में बुलाना भूल गई।

यहां शिवलिंग से आती है तुलसी की गंध, देखें पौराणिक शिवालयों की तस्वीरें

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार आते ही स्व. महेंद्र कर्मा के बेटे आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बना दिया गया, लेकिन हमारे परिवार के बारे में सोचा नहीं जा रहा है। उन्होंने कहा कि नक्सल हिंसा के पीड़ित होने का पैसा तो मिल गया, लेकिन पेंशन नहीं।

Sukma Encounter : भाई पुलिस में और बहन नक्सली, मुठभेड़ में जब आमने-सामने आ गए

पार्टी टिकट देगी तो चुनाव लडूंगी

एक सवाल के जवाब में ओजस्वी ने कहा कि उनके पति ने समाजसेवा करते हुए जान गंवाई। उनकी अधूरी इच्छा को पूरी करने वो भी लोगों के बीच पहुंचती हैं। यदि पार्टी टिकट देती है तो चुनाव अवश्य लड़ेंगी।

किशोर का अपहरण कर महिला बनाती रही संबंध, यह हुआ अंजाम

रिश्‍ते शर्मसार : जमीन के लिए पिता के किए टुकड़े, एक बेटा गिरफ्तार, दूसरा फरार

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना