Dantewada News : दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले का युवा प्रणित सिम्हा हावर्ड इंडिया कांफ्रेंस 2020 (अमेरिका) में 15 फरवरी को व्याख्यान देंगे। उनका विषय टेक्नोलॉजी इन एजुकेशन है। वे बताएंगे कि बच्चों को तकनीकि शिक्षा क्यों और कहां जरूरत है? उल्लेखनीय है कि हावर्ड इंडिया कांफ्रेंस,हर साल अमेरिका के हावर्ड विश्वविद्यालय में आयोजित होता है। इसमें भारत के विभिन्न् क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य कर रहे 10 से 15 व्यक्तियों को आमंत्रित कर विचार संगोष्ठी और अनुभव साझा करने के लिए मंच प्रदान किया जाता है। इस बार छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल और दंतेवाड़ा के युवा प्रणीत सिम्हा को आमंत्रित किया गया है।

29 वर्षीय युवा प्रणित सिम्हा, पिछले आठ साल से प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में अपने बनाए संगठन बचपन बनाओ के माध्यम से कार्यरत हैं। उनके मार्गदर्शन में जिला शिक्षा विभाग ने पढ़े दंतेवाड़ा- लिखे दंतेवाड़ा, छू लो आसमान, उजर -100 जैसे कार्यक्रम कर रहा है। प्रणित, पुणे के भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान का अध्ययन किया है। उन्होंने विभिन्न् सम्मेलनों में प्रवक्ता के रूप में भाग लिया है, सामाजिक नवाचार -2016 पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, अंतरराष्ट्रीय लोकतांत्रिक शिक्षा सम्मेलन, इजराइल 2017 और विचार वेद सम्मेलन 2018 में हिस्सा ले चुके हैं।

प्रणीत दंतेवाड़ा में शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे 'बचपन बनाओ' एनजीओ के संस्थापक हैं। यह संस्था दंतेवाड़ा के अंदरूनी क्षेत्रों के स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के साथ-साथ उनके अंदर कुछ नया करने का विश्वास भी जगाती है। प्रणीत कहते हैं, 'मैं बचपन बनाओ को जिंदगी भर नहीं चलाना चाहता, मैं चाहता हूं कि हम इतना अच्छा काम करें कि एक दिन ऐसा आए जब बचपन बनाओ की जरूरत ही न हो।'

मूलत: आंध्रप्रदेश के रहने वाले प्रणीत के माता-पिता सामाजिक कार्यकर्ता हैं। वे कहते हैं कि बचपन से उन्होंने अपने आसपास यही माहौल देखा कि जरूरतमंद लोगों की कैसे मदद की जाए? कैसे उनमें कुछ करने का आत्मविश्वास जगाया जाए। स्कूल खत्म होते ही प्रणीत ने जेईई की परीक्षा दी, जिसमें मेरिट में उनका नाम आया। समाज सेवा का रास्ता चुना।

Posted By: Anandram Sahu

fantasy cricket
fantasy cricket