दंतेवाड़ा। छत्‍तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में प्राथमिक स्कूल में दिखी अजीबो गरीब स्थिति। यहां पर स्कूल में माह के नाम भी गलत लिखे हुए हैं, वहीं शिक्षकों को इसका पता तक नहीं है। नवंबर के बाद चार्ट में सितंबर लिखा है। हफ्ते के सात दिन जो स्कूल में अंग्रेजी में लिखे हुए हैं वह भी गलत लिखा हुआ है।

गीदम ब्लाक के झोड़ियाबडाम प्राथमिक शाला में महीने और दिनों तक के नाम चार्ट में नही लिखे गए हैं। सबसे खराब स्थित तब देखने को मिली जब इस स्कूल में पदस्थ एक शिक्षक और शिक्षिका से कहां गलती है, यह बताने कहा गया तो दोनों शिक्षक नहीं बता पाए। नवंबर के बाद हिदी में सितंबर और अंग्रेजी में दिसंबर कैसे लिखा गया।

इस पर स्कूल में मौजूद शिक्षक ने बताया कि मुख्यमंत्री प्रवास के दौरान हड़बड़ी में गड़बड़ी हो गई।जिस स्कूल में दिनों और महीनों के नाम गलत लिखे हों वहां अंग्रेजी की पढ़ाई भी होती है और इन्ही शिक्षकों के द्वारा शिक्षा दी जाती है। ऐसे में जिले में बच्चों को कैसी शिक्षा दी जा रही है, इसका अंदाज लगाया जा सकता है।

दंतेवाड़ा जिले में शिक्षा को लेकर कलेक्टर के द्वारा लगातार दिशा निर्देश दिए जा रहें है। जिले में विशेष कर ग्रामीण क्षेत्र की शिक्षा व्यवस्था सुधारने लगातार प्रयास किये जा रहे हैं, बावजूद दंतेवाड़ा जिला मुख्यालय के नजदीक के स्कूलों में शिक्षा की दुर्दशा देखने को मिली। इस संबंध में शेख रफीक, बीईओ गीदम ने बताया कि क्या गड़बड़ी है आज ही चेक करवाकर ठीक कराया जाएगा।

निरीक्षण करने वाले अधिकारियों ने भी नही देखी गलती

स्कूलों की सतत निगरानी के लिए अलग-अलग कर्मचारियों को जिम्मेदारी भी दी गई है। संकुल समन्वयक, बीआरसी, बीईओ, जैसे अधिकारियों के द्वारा बड़-बड़े दावे किए जाते हैं पर जिला मुख्यालय के नजदीक के स्कूलों की दशा ही नहीं सुधार पा रहे हैं।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था गीदम में कैंपस 29 को

दंतेवाड़ा। संजीव आटो प्राइवेट लिमिटेड औरंगाबाद की ओर से 29 जून को शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था गीदम में कैंपस का आयोजन किया गया है। जिसमें 10वीं, 12वीं, आइटीआइ डिप्लोमा इंजीनियरिंग, बीए, बीएससी, बीकाम उत्तीर्ण छात्र एवं छात्राएं सम्मिलित हो सकते हैं। सभी महाविद्यालय, कालेज, स्कूल के छात्र एवं छात्राएं भाग ले सकते है। -नप्र

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close