प्रदीप गौतम, दंतेवाड़ा। दक्षिण बस्तर को प्रकृति ने अनुपम सौंदर्य दिया है पर नक्सलवाद की वजह से कई दर्शनीय स्थल अछूते पड़े हैं। हालांकि अब इस इलाके से बारूद की गंध छंटने लगी है और इसी के साथ पर्यटनस्थलों का रास्ता भी सुगम होने लगा है। दंतेवाड़ा जिले का खूबसूरत फूलपाड़ जलप्रपात भी ऐसे ही स्थलों में से एक है। जिला मुख्यालय से 43 किमी दूर प्रकृति की वादियों में छटा बिखेरते इस झरने तक सड़क न होने की वजह से कम ही लोग पहुंच पाते हैं। फोर्स की निगरानी में नक्सल इलाकों में बिछ रही सड़कों में फूलपाड़ की सड़क भी शामिल है।

मुख्य मार्ग से झरने तक ढाई करोड़ की लागत से सात किमी सड़क का निर्माण तेज गति से चल रहा है। सड़क बनी और इलाका सुरक्षित हुआ तो यहां पर्यटकों की बाढ़ उमड़ने लगेगी। इससे इस इलाके को नई पहचान मिलने की उम्मीद है। फूलपाड़ जलप्रपात बैलाडीला के पहाड़ से निकलने वाले कुरूम नाले पर स्थित है। यहां नाले का पानी करीब सौ फीट की ऊंचाई से तीन चरणों में गिरता है। चट्टानों पर गिरता पानी भयंकर गर्जना करता है। इसका सौंदर्य मन मोह लेता है।

ज्ञात हो कि दक्षिण बस्तर के जंगलों में करीब एक दर्जन ऐसे जलप्रपात हैं जो पर्यटकों की नजरों से दूर हैं। फूलपाड़ के अलावा दंतेवाड़ा जिले में बैलाडीला के पहाड़ पर झारालावा जलप्रपात भी लोगों की पहुंच में आने जा रहा है। यहां बासनपुर से झिरका गांव तक सड़क बन रही है। अभी झारालावा जाने के लिए पहाड़ी रास्तों पर पहले बाइक से फिर पैदल चलना पड़ता है।

इसी मार्ग से होकर बैलाडीला का एक और झरना मलनगिरी भी पहुंच में आ जाएगा। दंतेवाड़ा जिले के छिंदनार में इंद्रावती का पुल बनने से नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ के जंगल में मौजूद हांदावाड़ा का विहंगम जलप्रपात भी आम लोग देख पाएंगे। अभी इन जगहों तक पहुंचने के लिए नक्सल हिंसा का खतरा उठाकर कई किमी पैदल चलना होता है। नदी-नाले पार करने की भी चुनौती रहती है।

ऐसे पहुंचें फूलपाड़

फूलपाड़ जलप्रपात दंतेवाड़ा जिले के कुआकोंडा ब्लाक के पालनार गांव के निकट है। जिला मुख्यालय से 36 किमी दूर स्थित पालनार मुख्यमार्ग से सात किमी की दूरी पर जलप्रपात है। मुख्यमार्ग से अंदर का रास्ता फिलहाल कठिन है। लोक निर्माण विभाग ने पालनार के आगे अरनपुर से पटेलपारा तक सात किमी सड़क का काम शुरू किया है। अभी इस झरने तक जाने के लिए नक्सलियों की अनुमति की जरूरत भी पड़ सकती है पर अब यह जिले का सबसे महत्वपूर्ण पर्यटनस्थल बनने जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags