धमतरी। समर्थन मूल्य में धान खरीदी के लिए प्रदेशभर के खरीदी केंद्रों में पीडीएस ने पिछले साल करोड़ों की संख्या में बारदाना उपलब्ध कराया था, लेकिन इसका भुगतान अब तक नहीं हुआ है।

राशन दुकानों को शासन से 27 करोड़ से अधिक की राशि का भुगतान करना शेष है। बारदाना के भुगतान का राशन दुकानों व समूह की महिलाओं को पिछले सालभर से इंतजार है।

प्रदेशभर में समर्थन मूल्य में धान खरीदी को सुचारु रूप से संचालित करने के लिए राशन दुकानों से सभी खरीदी केंद्रों को वर्ष 2020-21 में तीन करोड़ 70 लाख 20601 नग बारदाना उपलब्ध कराया गया था। प्रति बारदाना पीडीएस ने 15 रुपये के दाम पर दिया था।

समर्थन मूल्य पर धान खरीदी समाप्त हुए सालभर होने को है, लेकिन अब तक बारदाना का पूरा भुगतान शासन स्तर से पीडीएस को नहीं किया गया है। राशन दुकान संचालक महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं व संचालकों को भुगतान का बेसब्री से इंतजार है।

शासन स्तर की बात होने की वजह से समूह की महिलाएं भुगतान की मांग को लेकर खुलकर सामने नहीं आ रही हैं। समूह की महिलाओं ने शासन से बारदाना की राशि शीघ्र दिलाने की मांग की है। क्योंकि वर्ष 2021-22 में समर्थन मूल्य में धान खरीदी के लिए पुनः बारदाना की मांग की गई है।

साढ़े 55 करोड़ से अधिक का भुगतान

प्रदेशभर की राशन दुकानों को तीन करोड़ 70 लाख 20601 नग बारदाना के लिए शासन से 55 करोड़ 53 लाख 9015 रुपये का भुगतान किया जाना था, लेकिन इसके एवज में शासन ने राशन दुकानों को अब तक 27 करोड़ 76 लाख 54514 रुपये का भुगतान किया है, जो पूरा भुगतान का करीब आधा है। अभी भी राशन दुकानों को बारदाना के लिए 27 करोड़ 76 लाख 54501 रुपये का भुगतान करना शेष है।

कलेक्टर पीएस एल्मा ने पिछले दिनों आयोजित बैठक में धमतरी जिले के अधिकारियों की बैठक लेकर समर्थन मूल्य में धान खरीदी की तैयारी करने व शेष भुगतान को पूरा करने मार्कफेड को निर्देश दिए हैं।

धमतरी के मार्कफेड के डीएमओ सीआर जोशी ने बताया कि भुगतान के लिए शासन से राशि प्राप्त हो चुकी है। बैंकों से राशन दुकानों की लिस्ट मंगाई गई है। लिस्ट मिलते ही उनके खाते में राशि जमा की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local