धमतरी। चिटफंड कंपनियों में 800 करोड़ रुपये से ज्यादा फंसा चुके धमतरी जिले के निवेशक बुधवार को मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे। सोमवार को बैनर-पोस्टर के साथ निकले निवेशक मंगलवार की शाम अभनपुर पहुंचे। बुधवार को ये रायपुर पहुंचेंगे और दोपहर में सीएम आवास के लिए कूच करेंगे।

कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के दौरान चिटफंड में फंसे पैसे की वापसी कराने का भरोसा दिलाया है। इसके बाद अकेले धमतरी जिले के करीब 7000 निवेशकों ने जिला प्रशासन के पास बांड जमा करवाया है, जिसके अनुसार उनके करीब 140 करोड़ रुपये फंसे हुए हैं। प्रदर्शनकारियों की गतिविधियों पर पुलिस लगातार नजर बनाए हुए है।

छत्तीसगढ़ अभिकर्ता एवं उपभोक्ता संघ के प्रदेशाध्यक्ष गगन कुंभकार के बताया कि धमतरी जिले में वर्ष 2015 से 2018 के बीच करीब 30 चिटफंड कंपनियां सक्रिय रहीं।

ये लुभावनी स्कीम बताकर पांच साल में ही रकम दोगुना-तिगुना तक करने का झांसा देकर करीब 30 हजार लोगों से निवेश करवाया। जब तक लोग चिटफंड कंपनियों की करतूत समझ पाए, तब तक धमतरी के 30 हजार से अधिक लोगों के करीबन 800 करोड़ रुपए फंस चुके थे।

अनमोल इंडिया एग्रो हर्बल एंड डेयरीज केयर कंपनी लिमिटेड के 1178 निवेशकों को नौ लाख 94 हजार 540 रुपये लौटाए गए हैं। इस संबंध में नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर एचएल गायकवाड़ का कहना है कि 15 चिटफंड कंपनियों के खिलाफ न्यायालय में प्रकरण चल रहा है। निवेशकों के सभी दस्तावेज कोर्ट में पेश कर दिए गए हैं।

20 लाख निवेशकों के 10 हजार करोड़ से ज्यादा फंसे

गगन कुंभकार के बताया कि प्रदेश के 20 लाख निवेशकों के 10 हजार करोड़ से अधिक की रकम 110 कंपनियों में फंसी हुई है। रकम वापसी के लिए सरकार की ओर से संतोषजनक पहल नहीं होने के कारण सीएम आवास घेरने की तैयारी है।

---

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags