नगरी (नईदुनिया न्यूज)। कोरोना संक्रमण से बचाव व सुरक्षा के लिए ग्राम बेलरगांव में ग्रामीणों ने खुद लॉकडाउन किया है। गांव के गलियों में सन्नााटा पसरा रहा। ग्रामीण घरों के भीतर रहे, ऐसे में ग्राम समिति की अगुवाई में पूरे गांव के गलियों व चौक चौराहों पर नीम पत्ती व हल्दी का घोल बनाकर सैनिटाइज के रूप में छिड़काव किया गया।

ग्राम सुरक्षा समिति बेलरगांव एवं ग्रामवासियों ने कोरोना से बचाव व सुरक्षा के लिए 20 सितंबर को एक दिवसीय लॉकडाउन रखा। वहीं इस दिन गांव के साप्ताहिक बाजार को बंद किया गया था। इस दौरान गांव के सभी दुकाने दिनभर बंद रही। लोग अपने सभी कार्य को बंद कर घर पर ही रहे एवं किसी भी बाहरी व्यक्ति को गांव में घुसने नही दिया गया। इस दिन सुबह से ही गांव के सभी सीमाओं में युवा कार्यकर्त्ता तैनात रहें। इस दौरान ग्रामीणों ने नीम पत्ता व हल्दी का घोल घर पर ही तैयार कर गांव के विभिन्ना गलियों एवं घरों पर इसका छिड़काव प्राकृतिक सैनिटाइजर के रूप में किया गया। ग्राम सुरक्षा समिति के अध्यक्ष कृष्णा मारकोले ने बताया की गांव में यदि माता (चेचक) का प्रकोप होता है, तो आध्यात्मिक परंपरा के अनुसार नीम के पत्ती, हल्दी व दही का छिड़काव उस प्रभावित व्यक्ति व घर पर किया जाता है, जिससे नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होता है। शरीर तथा वातावरण को शीतलता मिलती है। क्योंकि विज्ञान भी नीम के पत्ते व हल्दी का महत्व अनेक प्रकार के रोगों के संक्रमण को रोकने में सहायक के रूप में सिध्द कर चुका है। उसी प्रकार इस समय कोरोना वायरस को समाप्त करने में यह सहायक होगा। ग्राम पटेल लीलंबर शेष ने बताया की प्राचीन समय में हमारे पूर्वजों के द्वारा प्राकृतिक वनस्पतियों को औषधियों के रूप में उपयोग बहुतायत रूप से किया जाता था, जिससे विभिन्ना रोगों व संक्रमण से बचा जाता था। आज उन्हीं परंपराओं का अनुसरण कर हम गांव में नीम पत्ते व हल्दी के घोल का छिड़काव किए है, जिसे हम अपनी प्राचीन पध्दति व आस्था को इस आधुनिक समय में लोगो तक पहुंचा रहे है।

इस कार्य में गांव के सभी लोग अपनी पूर्ण सहभागिता दी। घर पर ही निर्मित सैनिटाइजर नीम पत्ते व हल्दी का घोल को समिति के लोगों को देकर गांव को सुरक्षित रखने में अपना योगदान दिए। इस अवसर पर वन अधिकार समिति अध्यक्ष हेमंत ठाकुर, सचिव देवेन्द्र सेन, महेश अग्रवाल, अंगेश हिरवानी, ईश्वर पटेल, विष्णु शेष, लखन पुजारी, जनक साहू, मंशाराम सोम, सीताराम ध्रुव, धनेश मरकाम, मेघराज ध्रुव, सुरेश मरकाम शीतला पुजारी, कृष्णा नेताम झांकर, भगवान कुंजाम, शोभित नेताम, हेमंत पुजारी सहित समिति के सदस्य एवं ग्रामवासी उपस्थित होकर अपना योगदान दिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020