Compost Fertilizer Sale: धमतरी। जिले में गोबर खरीदी शुरू होने के साथ गोठानों में वर्मी कंपोस्ट खाद बनाई जा रही है। इस खाद का उपयोग किसान कर रहे हैं। पहले ही साल में लक्ष्य से अधिक खाद की बिक्री हुई है, इससे सोसाइटी संचालकों में खुशी है, वहीं आगामी साल में लक्ष्य बढ़ने की संभावना है। 12 हजार किसानों ने एक करोड़ से अधिक के खाद खरीदे हैं।

खरीफ सीजन में खेती-किसानी करने वाले किसानों के लिए इस साल जिले के 74 सोसाइटियों में 10 हजार क्विंटल वर्मी कंपोस्ट खाद बिक्री का लक्ष्य था। खरीफ खेती-किसानी की शुरूआत होने के समय शासन से किसानों को वर्मी कंपोस्ट खाद खरीदने के लिए प्रेरित किया, तो खाद खरीदने किसान व अन्य लोग सामने आए।

जिला नोडल कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार धमतरी जिले में 12 हजार से अधिक किसानों ने 12018 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट खाद खरीदे हैं, जो लक्ष्य से कहीं अधिक है। 12 लाख 93000 रुपये नकद की बिक्री हुई है। 71 लाख 30 हजार रुपये किसान कर्ज में वर्मी कंपोस्ट खाद की खरीदी की है। वहीं विभिन्ना विभागों ने 34 लाख 91000 रुपये के खाद कर्ज में लिया है। इस तरह जिले में पहले ही साल में कुल एक करोड़ 19 लाख 14000 रुपये के वर्मी कंपोस्ट खाद की बिक्री हुई है।

धान बिक्री के समय होगी कर्ज की वसूली

समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू होने के साथ लिकिंग खरीदी के माध्यम से कर्जदार किसानों से समितियां वर्मी कंपोस्ट खाद के कर्ज की वसूली करेगी। वसूली करने में समितियों को किसी तरह दिक्कत नहीं होगी। यह वसूली रासायनिक व वर्मी कंपोस्ट खाद की एक साथ होगी। उल्लेखनीय है कि शुरूआती दौर में जिले के गोठानों में पर्याप्त वर्मी कंपोस्ट खाद का निर्माण नहीं हो पाया था, लेकिन अब गोठानों में पर्याप्त मात्रा में वर्मी कंपोस्ट खाद उपलब्ध है। इस संबंध में जिला नोडल अधिकारी प्रहलाद पुरी गोस्वामी का कहना है कि वर्मी कंपोस्ट की मांग पहले ही साल ठीक रही। भविष्य में किसानों को इस खाद की बिक्री के लिए ज्यादा प्रेरित किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local