धमतरी। नगर निगम धमतरी ने एक बार फिर से मवेशी धरपकड़ अभियान शुरू कर दिया है। दो दिन के भीतर 12 बेसहारा मवेशियों को पकड़ा गया है। लंबे समय बाद मवेशियों को पकड़ने की कार्रवाई होने से शहरवासियों ने राहत की सांस ली है। लोगों का कहना है कि इसी तरह लगातार मवेशियों की धरपकड़ की जाए

धमतरी शहर में एक बार फिर से बेसहारा मवेशियों की धरपकड़ शुरू हुई है। राष्ट्रीय राजमार्ग में अंबेडकर चौक से लेकर रत्नाबांधा चौक, पुराना बस स्टैंड, सिहावा चौक से होते हुए अर्जुनी मोड़ तक सड़क में घूम रहे मवेशियों को पकड़ा गया। काऊ केचर वाहन को साथ लेकर नगर निगम अमला चल रहा था, साथ ही यहां वहां बैठे मवेशियों को पकड़ कर सीधे काऊकैचर वाहन में डाला गया। निगम आयुक्त मनीष मिश्रा ने कहा कि शहर की यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से बेहतर बनाने के लिए सभी की सहभागिता आवश्यक है। बेसहारा मवेशियों की धरपकड़ लगातार की जाएगी। इससे वाहन दुर्घटनाओं पर रोक लगेगी। पकड़े गए मवेशियों को अर्जुनी के कांजी हाउस में रखा जा रहा है। मवेशियों को सड़क में छोड़ा जाना किसी भी लिहाज से उचित नहीं है। मवेशी मालिकों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि शहर के भीतर यहां वहां बैठे जानवरों के कारण लोगों को हमेशा परेशानी का सामना करना पड़ता है। शहरवासियों की इस परेशानी को लेकर नई दुनिया द्वारा समय समय पर समाचार के माध्यम से जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया जाता है। धरपकड़ अभियान के प्रभारी हेमंत नेताम ने बताया कि रविवार से यह अभियान चलाया जा रहा है, लगातार यह अभियान चलेगा। कार्रवाई के दौरान धरपकड़ अभियान के सदस्य श्यामू सोना, बंसी दीप, सुनील सालुंके, गोविंद पात्रे, रोशन लोंढे, संजू यादव, विजय मौजूद थे।

सड़क पर बैठे रहते हैं मवेशी

सिहावा चौक, मकई चौक, रत्नाबांधा पुराना बस स्टैंड, अंबेडकर चौक, सोरिद पुल, काली मंदिर श्याम तराई कृषि उपज मंडी के पास मवेशियों का अस्थाई ठौर है। इनसे टकराने से शहर के अंदर कई बार दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। हाल के दौरान हुई कई सड़क दुर्घटना में प्रमुख कारण सड़क के बीच बैठे मवेशियों को माना गया। कुछ दिन के अभियान के बाद कार्रवाई बंद हो जाती है। शहर के जागरूक नागरिकों का कहना है कि धरपकड़ की कार्रवाई लगातार होनी चाहिए। इसके साथ ही मवेशी मालिकों के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए ताकि वे अपने जानवरों को सड़क पर न भेज सकें।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags