धमतरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। समर्थन मूल्य में धान खरीदी के लिए अब सिर्फ एक दिन शेष है। 29 नवंबर की सुबह से टोकन कटाने के लिए जिले के अधिकांश केन्द्रों में किसानों की भीड़ लगी, लेकिन शासकीय आदेश जारी नहीं होने से मैनुअल पद्धति से किसानों का नाम क्रमवार नोट किया गया। केन्द्रों की इस पहल से किसानों को राहत मिली, लेकिन देर शाम तक कलेक्टर पीएस एल्मा ने अधिकारियों से धान खरीदी के लिए विभिन्ना बिन्दुओं पर चर्चा कर 30 नवंबर से टोकन जारी करने के निर्देश दिए है। जिले में एक दिसंबर से 96 खरीदी केन्द्रों एवं उपकेन्द्रों में धान खरीदी होगी, जिसकी तैयारी पूरी हो गई है। खरीदी केन्द्र सलोनी, डाही लोहरसी, आमदी, डाही, कुर्रा-बागतराई, सोरम, शंकरदाह आदि जगहों में सुबह से टोकन कटाने के लिए किसानों की भीड़ लग गई। भीड़ को देखते हुए ज्यादातर खरीदी केन्द्रों में किसानों का मैनुअल पद्धति से नाम एंट्री कर उन्हें संतुष्ट किया गया, ताकि भगदड़ न मचे व किसानों में आक्रोश न फैले। जिला नोडल अधिकारी प्रहलाद पुरी गोस्वामी ने बताया कि जिला प्रशासन के आदेशानुसार समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए 30 नवंबर की सुबह से किसानों को टोकन जारी किया जाएगा। सभी खरीदी केन्द्रों में धान खरीदी के लिए तैयारियां पूरी हो गई। शांतिपूर्ण माहौल व भीड़ नहीं करते हुए सभी सोसाइटियों को किसानों का टोकन काटने आदेश दिया गया है। वहीं 30 नवंबर को समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए ट्रायल करने कहा गया है। समर्थन मूल्य में धान बेचने के लिए सीमांत किसानों को पहले मौका देने शासन का आदेश है। इन किसानों का सिर्फ एक ही टोकन काटा जाएगा। इस वर्ग में शून्य से ढाई एकड़ तक के रकबे वाले किसान आएंगे। वहीं लघु किसान जिनके पास ढाई से पांच एकड़ जमीन है, इन किसानों को दो बार टोकन कटाने की पात्रता है। वहीं सबसे अंत में दीर्घ किसान यानि बड़े किसान जिनके पास पांच एकड़ से अधिक जमीन है, इन्हें तीन बार टोकन जारी किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local