धमतरी(नईदुनिया न्यूज)।

महाशिवरात्रि के अवसर पर कुलेश्वर महादेव मंदिर दर्शन करने पहुंची गर्भवती महिला को अचानक प्रसव दर्द उठा। महिला आरक्षकों ने बीच रास्ते पर ही उसकी डिलीवरी करा दी। महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। पुलिस के इस कार्य की खूब प्रशंसा हो रही है।

शुक्रवार 21 फरवरी को ग्राम चंद्रसुर चौकी बड़ी करेली जिला धमतरी निवासी ईश्वरी निषाद 35 वर्ष अपनी बहन और उनके बच्चों के साथ शिवरात्रि के अवसर पर कुलेश्वर महादेव के दर्शन के लिए पहुंची। लोमस ऋषि आश्रम से वह कुलेश्वर मंदिर की ओर जा रहे थे। रास्ते में धमतरी जिला पुलिस द्वारा लगाए गए स्टॉपर के पास अचानक ईश्वरी निषाद को प्रसव दर्द हुआ। जानकारी मिलते ही सूबेदार रेवती वर्मा और एएसआई सालिकराम ने महिला आरक्षक मनीषा ठाकुर, डिगेश्वरी साहू, शक्ति टीम की माधुरी सोनवानी, कुंज मंडावी और सुशीला मंडावी को बुलाया। स्टॉपर लगाकर यातायात रोककर आनन-फानन में चारों तरफ साड़ी से घेरा लगाकर वहां पर मौजूद महिलाओं की मदद से ईश्वरी का डिलीवरी करा दी। महिला ने स्वस्थ पुत्र को जन्म दिया तब तक महतारी एक्सप्रेस 102 को खबर दी जा चुकी थी। एंबुलेंस पहुंचने से पहले डिलीवरी हो चुकी थी। महिला पुलिस के इस कार्य की खूब प्रशंसा हो रही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे ने बताया कि सामुदायिक पुलिसिंग के तहत यह एक नया अनुभव रहा। पुलिस विभाग हर परिस्थितियों के लिए तैयार रहती है। उनका फर्ज है कि लोगों को सुविधाएं, सहायता और सुरक्षा प्रदान कराया जाए। मालूम हो कि धमतरी पुलिस लगातार सामुदायिक पुलिसिंग के तहत लोगों को जागरूक करना, यातायात नियमों से अवगत कराना, ठगों से बचाने जैसे जनजागरूकता के कार्यक्रम चलाती रहती है।

Posted By: Nai Dunia News Network