धमतरी। प्रार्थिया सरिता कुशवाहा ने कोतवाली थाना में आवेदन प्रस्तुत कर रिपोर्ट दर्ज करायी कि उसके घर काम करने वाली बासन बाई एंव उसका पति विजय ध्रुव उसकी बहन सुनोती बाई, सोनती की लड़की अंजली, निर्जला और बासन की लड़की देविका उर्फ नेहा ने तंत्र-मंत्र का झांसा दिया। प्रार्थिया के पति और उसके बहन के लड़के शिवम के उपर तंत्र-मंत्र का भय दिखाकर उसे दूर कराने का झांसा देकर नगदी रकम पैंतिस लाख स्र्पये और सोने-चांदी के जेवर लेकर हड़प लिए। इस घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ 386, 420, 34 भादवि का अपराध दर्ज किया।

ठगी का शिकार हुई महिला सरिता कुशवाह पति रामभवन कुशवाह उम्र 50 वर्ष कृदंत कालोनी महात्मा गांधी वार्ड में रहती है। वह महिला बाल विकास विभाग धमतरी में पर्यवेक्षक के पद पर कार्यरत है। उसने पुलिस को बताया कि बासन मंडावी, निवासी महात्मा गांधी वार्ड धमतरी की मेरे घर में वर्ष 2012 से 2017 तक झाड़ू-पोछा का काम कर रही थी।

मेरे पति राम भवन कुशवाह ठेकेदारी का कार्य करते है। जो काम से हमेशा रात्रि में विलम्ब से घर आना जाने करते थे और अपने ठकेदारी कार्य में अधिक व्यस्त रहने से कभी कभी मेरे साथ चिड़चिड़ापन व्यवहार करते थे।

मेरी कोई संतान नहीं है जिसके कारण मैं अपनी छोटी बहन का लड़का शिवम उम्र 15 वर्ष को मेरे साथ बचपन से रखी हूं ये सब देखकर बासनबाई मंडावी बोली कि तेरे पति के ऊपर कोई तांत्रिकी शक्ति प्रवेश कराये है जिसके कारण आपका पति अच्छा व्यवहार नहीं करता है और एक दिन ऐसा होगा कि पति- पत्नि अलग हो सकते हो।

इस बात से मैं डर गई इसके चलते बासन बाई के झांसे में आ गई और वो बोली की मेरे पिताजी तांत्रिकी काम करते है मिलाऊंगी, उसके लिये खर्च करना पड़ेगा, कहकर मुझे गंगरेल अगांरमोती मंदिर में उस तांत्रिक से मिलाई जो उसका पिता था जो मिलने पर उसके पिताजी ने बताया कि आपके पति व शिवम पर जान से मारने के लिए तंत्र- मंत्र कर दिए हैं।

यह बात सुनकर मैं डर गई। फिर मैं बोली की क्या करना पड़ेगा। उसके द्वारा कहा गया कि 80-90 हजार स्र्पया लगेगा। मैं तो इतना डर गई थी कि वो जितना बोले थे, उसे देने के लिए एटीएम से निकालकर 70 हजार स्र्पये नगद दिए। इसी तरह प्रति माह मुझे बासन बाई के द्वारा मेरे घर आकर बताया जाता था कि अब यह काम करना है और उसके लिये इतनी रकम लगेगी।

इस तरह धीरे-धीरे करके उसने मुझसे 35 लाख स्र्पये और जेवर ले लिए, लेकिन मेरे पति के व्यवहार में कोई परिवर्तन नहीं आया। महिला ने बताया कि रकम देने की बात उसने पति से छिपाई थी, लेकिन शक होने और पैसे गंवाने के बाद उसने घर पर यह बात बताई और फिर पुलिस के पास इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

Posted By: Himanshu Sharma