धमतरी। Dhamtari News: समर्थन मूल्य में धान खरीदी शुरू नहीं होने के कारण इस साल किसानों के हाथ खाली हैं। दीवाली त्यौहार मनाने उनके पास रुपये नहीं हैं। ऐसे में राजीव गांधी किसान योजना से मिले बोनस की राशि निकालकर किसान दीवाली का त्यौहार मनाएंगे।

जिले के धमतरी, कुरूद, नगरी और मगरलोड के 102000 किसानों ने पिछले साल समर्थन मूल्य में धान बेचे हैं। इन किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत राज्य सरकार से चार किस्तों में बोनस की राशि दी जानी है। नवंबर माह तक किसानों को तीसरी किस्त की राशि मिल गई है।

तीसरी किस्त की राशि के रूप में जिले भर के किसानों को 70 करोड़ रुपए का वितरण राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किया गया है। इस साल समर्थन मूल्य में एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू होगी। ऐसे में किसानों के पास रुपये नहीं हैं। उनके हाथ खाली है। बोनस के तौर पर मिले कुछ राशि से इस बार किसानों की दीवाली मनेगी। बोनस की राशि को निकालने जिले के सहकारी बैंक में 10 नवंबर को किसानों की रेलमपेल बैंक के सामने लगी।

राशि निकालने भीड़ के चलते किसानों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। वहीं कचहरी उतार के सामने मुख्य सड़क पर किसानों की अधिक भीड़ होने के कारण यातायात व्यवस्था पूरी तरह से ठप है। जिससे सड़क दुर्घटना की संभावना बनी हुई है। व्यवस्था के लिए बैंक प्रबंधन गंभीर है न ही ट्रैफिक पुलिस।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस