सुरेंद्र ध्रुव, दुगली। धमतरी जिले की पांचवीं अनुसूची में शामिल क्षेत्र नगरी विकासखंड के ग्राम दुगली की तस्वीर अब बदलेगी। यहां 34 साल बाद पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की प्रतिमा लगेगी। कांग्रेस सरकार बनने के बाद क्षेत्र के लोगों को विकास की उम्मीद है। नईदुनिया ने छह जुलाई और 15 जुलाई को दुगली की स्थिति को लेकर खबर प्रकाशित की थी। यहां की मांगों और समस्याओं को शासन-प्रशासन के समक्ष उठाया था।

14 जुलाई 1985 को भारत के प्रधानमंत्री राजीव गांधी, धर्मपत्नी सोनिया गांधी, पुत्र राहुल गांधी को लेकर आदिवासी संस्कृति एवं विशेष जनजाति कमार परिवार की जीवनशैली को करीब से देखने पहुंचे थे, तब से दुगली को राजीव ग्राम के नाम से पहचाना जाता है। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद वर्ष 2018 कांग्रेस की सरकार बनी। दुगली को राजीव गांधी का गोदग्राम होने के कारण फिर से तवज्जो मिलने लगी है।

20 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की प्रतिमा का लोकार्पण होगा। इससे पहले प्रतिमा स्थल 24 साल का वीरान पड़ा रहा। महिला स्वसहायता समूह के लिए शहद प्रोसेसिंग यूनिट का शुभारंभ करेंगे। आदिवासी बालक आश्रम में कमार बच्चों और कमार परिवारों से मुख्यमंत्री चर्चा भी कर सकते हैं। तीरंदाजी प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ करेंगे। आदर्श गौठान का लोकार्पण होगा।

सिंचाई समेत अन्य समस्या रखेंगे ग्रामीण

दुगली क्षेत्र की प्रमुख जन समस्या सोंढूर नहर का विस्तार है। नगरी से दुगली-सिंगपुर तक 111 वनग्रामों को पूर्णत? राजस्व का दर्जा, दुगली को ब्लाक बनाने, दुगली में महाविद्यालय, बालिका छात्रावास, सहकारी केंद्र की उपशाखा, राष्ट्रीयकृत बैंक, समर्थन मूल्य पर वनोपज खरीदी केंद्र, विद्युत विभाग का सब स्टेशन जैसे बहुप्रतीक्षित मांग व समस्याओं को लोग मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे। दुगली क्षेत्र में वनों में कब्जा कर रह रहे ग्रामीण वन अधिकार पट्टा के लिए शासन से लड़ाई लड़ रहे हैं उन्हें भी मुख्यमंत्री से काफी अपेक्षा है।

सुकालू राम के परिवार में उत्साह का माहौल

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को लेकर सुकालू राम के परिवार में उत्साह का माहौल है। वर्ष 1985 में गांधी परिवार जब दुगली आया, तब सुकालू राम और उसके परिवार से पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी मिले थे। आज सुकालू राम तो नहीं रहे, मगर आज उनकी बेटी मोतीन बाई और उनके दामाद मैकूराम कमार परिवार समेत यहां रहते हैं। इस परिवार में मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर भारी उत्साह है।

Posted By: Nai Dunia News Network