धमतरी। Dhamtari News: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के तीन अधिकारी 21 नवंबर को धमतरी पहुंचे। कलेक्ट्रेट के बाहर अपना वाहन रखे और तीनों कलेक्ट्रेट कार्यालय के खनिज शाखा में सीधे पहुंचकर जिला सहायक खनिज अधिकारी बजरंग पैकरा, खनिज निरीक्षक खिलावन कुलार्य व नगर सैनिक मनोहर सिन्हा को खनिज अधिकारी के कक्ष में ले गए। कक्ष का दरवाजा बाहर से बंद करा दिया और पूछताछ शुरू कर दिया। पहले अधिकारी-कर्मचारी समझ नहीं पाए, लेकिन ईडी की टीम होने की जानकारी मिलने से खनिज विभाग के कर्मचारियों समेत अन्य विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। वहीं ईडी टीम कलेक्ट्रेट पहुंचने की खबर से शहर के व्यावसायियों, कालोनाइजरों समेत रसूखदारों लोगों में दहशत है।

जिला खनिज विभाग धमतरी में दर्री व दोनर रेत खदान के टेंडर खोलने की तैयारी सुबह से कार्यालय में चल रही थी, तभी सुबह 11 बजे अचानक ईडी के तीन अधिकारी कार्यालय पहुंचे। जिला खनिज अधिकारी बजरंग पैकरा का नाम पूछे। वहीं खनिज निरीक्षक खिलावन कुलार्य व नगर सैनिक मनोहर सिन्हा समेत तीनों को जिला खनिज अधिकारी के कक्ष में ले गए। फिर बंद कमरे के भीतर पूछताछ शुरू हो गई। समय-समय पर ईडी के अधिकारी कुछ कारण से बाहर निकलते रहे, लेकिन किसी से बातचीत नहीं किए। कुछ लोग बात करने कोशिश की, लेकिन बात ही नहीं किया। ईडी की पूछताछ सुबह 11 बजे से शुरू हुई, जो शाम सात बजे तक जारी रहा। पूछताछ के दौरान विभाग के अन्य कर्मचारियों को दूसरे का में बिठा दिया गया था, कामकाज पूरी तरह से बंद रहा। ईडी के अधिकारी आने की खबर से रेत खदान के टेंडर खुलने के लिए रायपुर, बिलासपुर समेत प्रदेश के कई जगहों से पहुंचे रेत खदान संचालन करने के इच्छुक आवेदक भी वहां से कुछ समय बाद चले गए। देर शाम तक पूछताछ के चलते टेंडर भी नहीं हो पाया।

आइटी ने की थी दस्तावेज जब्त

उल्लेखनीय है कि सात सितंबर 2022 को सहायक खनिज अधिकारी बजरंग सिंह पैकरा के रायगढ़ आवास से आइटी की टीम ने कई दस्तावेज जब्त कर जांच कार्रवाई की थी। इस दौरान प्रदेश में कई अन्य कारोबारियों के घर भी छापेमार कार्रवाई की थी। बताया जा रहा है कि आईटी की जांच के दौरान इस अधिकारी का ट्रांसफर धमतरी जिले के खनिज विभाग में जिला खनिज अधिकारी के रूप में हुआ है। जांच के दौरान अधिकारी यहां ठीक से काम नहीं कर पा रहे थे, अधिकांश कार्य खनिज निरीक्षक निबटा रहे हैं।

शहर के बड़े व्यवसायी व कालोनाइजरों में हड़कंप

कलेक्ट्रेट में ईडी के अधिकारियों के आने की खबर मिलने के बाद कुछ विभाग के कई अधिकारी गुपचुप तरीके से कक्ष छोड़कर चलते बने। वहीं यह खबर इंटरनेट मीडिया के माध्यम से शहर में फैलते ही बड़े व्यवसायियों व कालोनाइजरों में हड़कंप मच गया। कुछ लोग तो अपने करीबियों से ईडी के लोकेशन की पूछताछ भी कर लिए। इन लोगों में दहशत फैल गया था, क्योंकि ईडी के अन्य टीमों के आने की खबर की चर्चा हो रही थी। हालांकि यह टीम प्रदेश के कई अन्य जिलों के लिए निकले हैं।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close