भखारा। भखारा की बाइपास सड़क निर्माण के लिए शासन प्रशासन ने भखारा एवं सिहाद के 38 किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया। नौ वर्षों बाद भी मुआवजा नहीं मिलने से आक्रोशित किसान आंदोलन कर रहे हैं।

29 नवंबर से किसान भखारा के तहसील कार्यालय के सामने हड़ताल पर बैठे हैं। आंदोलन के छह दिन पूरे होने के बाद भी मांग पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है और न ही शासन प्रशासन का कोई प्रतिनिधि सुध लेने आया। इसलिए आंदोलनकारी किसानों ने चार दिसंबर को कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया है।

तीन दिसंबर को जिला किसान संघ के लीलाराम साहू एवं घनाराम साहू भखारा के धरनास्थल पर पहुंचकर किसानों का हालचाल जाना और भरपूर सहयोग देने की बात कही। दोनों ने कहा कि जायज मांग है। यह बाइपास सड़क 2017-18 से अवार्ड घोषित हो गया है, उसके बावजूद भी शासन-प्रशासन द्वारा किसानों के साथ अन्याय किया जा रहा है। यह सरासर गलत है। चार दिसंबर को भखारा के किसानों के साथ जिला किसान संघ के पदाधिकारी भी कलेक्टर कार्यालय जाकर उनकी मांगों को पूरा करने की मांग करेंगे। ज्ञात रहे एक सप्ताह से भखारा आर सिहाद के 38 किसान परिवार महिलाओं सहित लगातार शांतिपूर्वक धरना दे रहे हैं। धरना स्थल के सामने ही स्थित तहसील कार्यालय के कोई अधिकारी-कर्मचारी किसानों से बात करना जरूरी नहीं समझ रहे हैं, जिससे किसानों में आक्रोश है।

खास बातें

- आंदोलन के एक सप्ताह पूरा होने को, नहीं आया सुध लेने

- जमीन अधिग्रहण के बाद भी मुअवजा नहीं मिलने का मामला

-चार दिसंबर को किसानों के साथ जिला किसान संघ के पदाधिकारी कलेक्टर कार्यालय जाकर मांगों को पूरा करने की मांग करेंगे

-- --

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local