धमतरी। इन दिनों लगातार एक के बाद एक पर्व और त्योहार आते जा रहे हैं, इसलिए बाजार घर-परिवार सभी जगह भीड़ नजर आ रही है। ऐसे समय में कोरोना की गाइडलाइन का पालन जरूरी हो गया है। त्योहारों के समय में ही कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ता है।

सुनीता ज्वेलर्स के संचालक किशोर देवांगन का कहना है कि प्रत्येक व्यक्ति को जिम्मेदारी के साथ कोरोना से लड़ाई लड़नी होगी। तभी कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि हम सब कोरोना की गाइड लाइन का पालन करें। ग्राम पंचायत रांवा के सरपंच का कहना है कि कोरोना के संक्रमण काल में अभी भी खतरा बना हुआ है। कभी भी कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ सकता है।

इसलिए जागरूकता का परिचय देते हुए लोगों को स्वप्रेरित होकर मास्क लगाना चाहिए। सैनिटाइजर का उपयोग करते हुए शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना चाहिए। क्राफ्ट बाजार के संचालक संदीप कुमार का कहना है कि दो गज की दूरी इस समय जरूरी है।

क्योंकि कोरोना के फैलने का खतरा अभी पूरी तरह टला नहीं है। तीसरा चरण कभी भी दस्तक दे सकता है। ऐसे समय में कोरोना वायरस को रोकने का सबसे सरल और उपाय दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी है। धर्म सेना के गौरक्षा प्रमुख पुष्पेंद्र साहू का कहना है कि इस समय कोरोना का खतरा बना हुआ है।

अतः जरूरी है कि हम सब अनिवार्य रूप से मास्क पहने और दूसरों को भी पहनने के लिए प्रेरित करें। कई लोग अनभिज्ञता के कारण कोरोना वायरस का संक्रमण खत्म हो गया है, ऐसा सोच रहे हैं जो कि गलत है। ग्राम लोहारसी के पार्थ साहू ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना वायरस को लेकर लोगों को जागरूकता दिखानी चाहिए।

ग्रामीण क्षेत्रों में शारीरिक दूरी, मास्क और सैनिटाइजर के नियमों का पालन नहीं हो पा रहा है। लोग खुद भी इन नियमों का पालन करें और लोगों को भी पालन करने के लिए प्रेरित करें, ताकि कोरोना का संक्रमण न फैल सके।

---

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local