धमतरी (नईदुनिया न्यूज)। भाजपा की तिरंगा रैली के दौरान उलटा तिरंगा लेकर चलने के मामले में जिलाध्यक्ष शशि पवार पर राष्ट्रध्वज के अपमान का मामला दर्ज किया गया है। ज्ञात हो कि गुरुवार को भाजपा ने धमतरी शहर में तिरंगा रैली का आयोजन किया था। एक वायरल वीडियो में इस रैली में भाजपा जिला अध्यक्ष को उलटा तिरंगा लेकर चलता दिखाया गया था। तिरंगे में भगवा रंग की पट्टी नीचे थी।

कांग्रेसियों ने इस मुद्दे पर हंगामा मचा दिया। पीसीसी कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल ने कहा कि तिरंगा राष्ट्रीय स्वाभिमान का प्रतीक है। इसका अपमान कांग्रेस नहीं सहेगी। भाजपा जिलाध्यक्ष ने सफाई दी है कि किसी ने उन्हें उलटा झंडा पकड़ा दिया। जैसे ही उन्हें इस बात की जानकारी हुई उन्होंने झंडे को सीधा कर लिया था। परंतु कांग्रेस ने जानबूझकर उलटा तिरंगा लेकर चलने का आरोप लगाया और गुरुवार शाम को सिटी कोतवाली के सामने प्रदर्शन किया।

पुलिस ने प्रकरण दर्ज नहीं किया तो शुक्रवार सुबह शहर में पैदल मार्च किया और नेशनल हाइवे क्रमांक 30 को दस मिनट के लिए रोक दिया। इसके बाद पुलिस ने शशि पवार के विरूद्ध मामला दर्ज कर लिया। हालांकि उनकी गिरफ्तारी अभी नहीं की गई है। एएसपी मेघा टेम्भूरकर ने कहा कि अभी विवेचना चल रही है। जांच के बाद गिरफ्तारी की जाएगी।

जमकर बरसे कांग्रेस नेता

नागरिक आपूर्ति निगम अध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, सिहावा विधायक डा लक्ष्मी ध्रुव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष शरद लोहाना, महापौर विजय देवांगन ने सभा को संबोधित कर तिरंगा झंडा को उल्टा लेकर चलने के मामले में भाजपा जिलाध्यक्ष शशि पवार की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग कर आवाज बुलंद किया। भाजपा की रीति-नीत को लेकर जमकर बरसे।

वहीं एनएसयूआइ कार्यकर्ताओं की भीड़ ने सभा स्थल के पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला दहन कर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी कर भाजपा जिलाध्यक्ष की गिरफ्तारी की मांग की। पुतला दहन के बाद सभी कांग्रेसी एकजुट होकर नेशनल हाईवे में उतरे और 10 मिनट तक सांकेतिक चक्काजाम किया। इस दौरान हाईवे में सभी ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर प्रदर्शन स्थल पर एएसपी मेघा टेंभूरकर, डीएसपी सारिका वैद, निरीक्षक रामटेके समेत पुलिस अधिकारी व जवान बड़ी संख्या में तैनात थे।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close