धमतरी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। तेज गर्जना के साथ अंचल में भारी वर्षा हुई। कई जगह विद्युत समस्या आने से 50 से अधिक गांवों में ब्लैक आउट की स्थिति रहत। वहीं एक पोल्ट्री फार्म में आकाशीय बिजली गिरने से संचालक को लाखों का नुकसान हुआ।

तीन सितंबर को शाम मौसम बदलने के साथ तेज गर्जना शुरू हुई। कुछ देर बाद झमाझम वर्षा हुई। तेज गर्जना व वर्षा का दौर घंटों चला। वर्षा से शहर व गांवों की गलियों में पानी भर गया। कामकाजी लोग फंसे रहे। देर रात वर्षा थमी, तो लोग गंतव्य तक पहुंचे। तेज गर्जना के चलते कई जगह विद्युत की समस्या आ गई। शहर में विद्युत बंद होने का सिलसिला जारी रहा, लेकिन गांवों में स्थिति खराब रहा।

जानकारी के अनुसार 50 से अधिक गांवों में रातभर बिजली नहीं आया। ब्लैक आउट की स्थिति बना रहा। चार सितंबर को दोपहर तक विद्युत नहीं आया। अंचल के गांव कोलयारी, अछोटा, गोकुलपुर, रुद्री, शंकरदाह, खपरी, सांकरा, संबलपुर, देमार समेत कई गांवों में बिजली बंद रहा। कई जगह पेड़ भी गिरे। संभागीय अभियंता विकेश शर्मा ने बताया कि करीब 40 से 50 गांवों में विद्युत बंद की शिकायत रही। गांवों से फोन आता रहा। भारी गर्जना से 10 जगह इंसुलेटर खराब हो जाने से बिजली नहीं आया। दूसरे दिन सुधारने की प्रक्रिया जारी रहा। विद्युत आने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

सुबह से अंचल में हुई भारी वर्षा

चार सितंबर कि सुबह धूप खिली, लेकिन कुछ देर बाद अंचल में बादल छाने के साथ झमाझम वर्षा हुई। दो से ढाई घंटे तक हुई वर्षा से पानी पानी हो गया। गलियों और मैदानों में पानी भर गया। लोगों का जीवन अस्त व्यस्त रहा। भादो के अंतिम समय में सावन की झड़ी जैसा मौसम रहा। दोपहर को वर्षा थमने के बाद शाम को तेज धूप खिली, तब लोगों ने राहत की सांस ली। एक ही दिन में 48 मिमी से अधिक औसत वर्षा हुई है।

पोल्ट्री फार्म में गिरी आकाशीय बिजली

तीन सितंबर की रात हुई भारी गर्जना व वर्षा के साथ आकाशीय बिजली ग्राम बेलतरा के एक पोल्ट्री फार्म में गिरी। संचालक जयंत पटवा ने बताया कि बिजली गिरने से छत में धड़ाम से आवाज आई। कमरा धुंआ धुआं हो गया। बिजली गिरने से विद्युत सप्लाई बंद हो गया।

कनेक्शन जलने के साथ पोल्ट्री फार्म व घर पर रखे सीसीटीवी कैमरा, फ्रीज, टीवी, वायर, मिक्सी, इंडक्शन चूल्हा, 50 बल्ब समेत कई सामग्री जलकर खाक हो गया। आकाशीय बिजली गिरने से करीब पांच लाख का नुकसान हुआ है। वही संचालक बिजली गिरने से दहशत में रहा। पांच मिनट तक उन्हें कुछ सुनाई नहीं दे रहा था। घटना के बाद स्वजन व ग्रामीणों को उन्होंने बिजली गिरने की जानकारी दी।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close