धमतरी, नईदुनिया प्रतिनिधि। अपनी फोटो को दूसरे के आधार कार्ड में फर्जी तरीके से जोड़कर बैंक से लोन लेने वाले आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सिटी कोतवाली पुलिस ने बताया कि राजेन्द्र सिंह 33 वर्ष पुत्र प्रकाश चंद्र निवासी बिरखडी थाना गोहाद चौक जिला भिंड मध्यप्रदेश वर्तमान राम नगर लोहारा रोड जिला कवर्धा में रहता है। उसने अपनी फोटो को दूसरे के आधार कार्ड में जोड़कर धोखाधड़ी की। नाम, पता व आधार कार्ड में कूटरचना कर बैंक से फर्जी तरीके से लोन ले लिया।

इसका पता चलने पर उसके खिलाफ जांच-पड़ताल की गई। उसने आधार कार्ड में वैभव मोदी के नाम से बनाया था। खुद को भोपाल निवासी व पेशे से डॉक्टर बताता था। बैंक को इस बात की जानकारी उस समय हुई जब आरोपित द्वारा स्वयं को वैभव मोदी बताकर लिए गए लोन की राशि नहीं पटाई। इसके बाद बैंक ने वास्तविक वैभव मोदी से संपर्क किया, तो उसने किसी तरह का लोन नही लेने की बात कही।

जांच में पता चला कि आरोपित राजेंद्र सिंह की धमतरी में दो बैंकों में से एक वैभव मोदी के नाम से और एक राजेन्द्र सिंह के नाम से एकाउंट खोल कर बैंक से अपना काम चला रहा था। उसके खिलाफ कूटरचना, धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड में भेज दिया गया है।