धमतरी। पालवाड़ी के जंगल में प्रेमिका के साथ दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या के मामले में विशेष न्यायाधीश ने गाजीपुर उत्तरप्रदेश के युवक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालयीन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 25 अप्रैल 2018 को दुगली थाना क्षेत्र के ग्राम पालवाड़ी के तुलतुली नाला के जंगल में युवती की लाश मिली थी। युवती अपने घर से सहेली के यहां शादी में जाने की बात कहकर निकली थी। लेकिन वह सहेली के घर न जाकर बस से कुकरेल में उतर गई और अपने प्रेमी मोहम्मद अफजल खान उर्फ मोनू (26) पुत्र मकबूल निवासी यूसुफ नगर दर्जी मोहल्ला थाना नवापुरा मोड़ जिला गाजीपुर उत्तरप्रदेश के साथ बाइक पर बैठकर पालवाड़ी के जंगल में चली गई। जंगल में युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद उसकी हत्या कर दी।

हत्या को फांसी का रूप देने के लिए स्कार्फ से लड़की के गले को बांधकर पेड़ पर लटका दिया। युवक टाटीबंध रायपुर में रहकर पानी टैंकर चलाने का काम करता था।

वह मुनईकेरा में रोड निर्माण के दौरान इसी दौरान युवती के साथ संपर्क हुआ। पुलिस ने हत्या का जुर्म दर्ज कर युवक को गिरफ्तार किया और विवेचना के बाद न्यायालय में चालान पेश किया।

सबूतों और गवाहों का परीक्षण करने के बाद विशेष न्यायाधीश सुधीर कुमार ने फैसला सुनाया। उन्होंने आरोपित मोहम्मद अफजल खान उर्फ मोनू को आजीवन कारावास और एक हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया।