धमतरी। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत 21 मई को समर्थन मूल्य पर धान बेचने वाले किसानों को बोनस के तौर पर पहली किश्त की राशि जमा की जाएगी। इस योजना का लाभ जिले के एक लाख 12,227 किसानों को लाभ मिलेगा। इन किसानों को अब खाते में राशि जमा होने का बेसब्री से इंतजार है, क्योंकि किसानों को अभी खरीफ सीजन की तैयारी के लिए रुपये की सख्त जरूरत है।

जिले के 96 खरीदी केन्द्रों में इस साल समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी हुई। इन केन्द्रों में धमतरी, नगरी, कुरूद और मगरलोड ब्लाक के पंजीकृत किसानों ने खरीदी के अंतिम समय तक कुल 43 लाख 13970 क्विंटल धान की खरीदी समर्थन मूल्य पर की गई है। इन किसानों को समर्थन मूल्य खरीदी के समय उनके खातों में जमा की गई है, जबकि राज्य सरकार ने किसानों के धान समर्थन मूल्य पर 2500 रुपये में खरीदी किया है, ऐसे में अंतर की राशि को राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत पिछले साल से दिया जा रहा है, इससे किसानों में खुशी भी है। इस साल खरीफ सीजन के उत्पादित धान को समर्थन मूल्य पर केन्द्रों में बेचने के करीब पांचवें माह में राजीव गांधी किसान न्याय योजना का पहला किश्त 21 मई को जारी किया जा रहा है, इस खबर से समर्थन मूल्य पर धान बेचने वाले किसानों में काफी खुशी है। इस योजना का लाभ जिले के एक लाख 12,227 किसानों को मिलेगा।

खरीफ की खेती के लिए फायदेमंद

किसान पुनारद राम साहू, घनश्याम राम, मनोहर लाल, नारायण साहू, रमेश कुमार साहू आदि ने बताया कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत इस साल पहला किश्त की राशि किसानों को मिलने के बाद इसका उपयोग किसान खरीफ खेती-किसानी की तैयारी के लिए खर्च करेंगे। क्योंकि मई माह के अंतिम सप्ताह से खरीफ खेती-किसानी के लिए जुताई समेत अन्य तैयारियां शुरू हो जाती है। किसान इस राशि से खाद, बीज समेत कृषि सामग्री की खरीदी भी करेंगे। ऐसे में यह राशि किसानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। किल्लत के इस समय में राशि मिलना बेहद ही खुशी की बात है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close