कलेक्टर से शिकायत करने पहुंचे खिलाड़ी

फोटो- 9 डीएमटी 13-5

कैप्शन-कलेक्टोरेट में शिकायत करते खिलाड़ी। - फोटो : नईदुनिया

एंकर के लिए--- धमतरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिला प्रशासन ने किसी भी तरह के राजनीतिक या अन्य मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन के लिए गांधी मैदान को प्रतिबंधित कर इसकी जगह इंडोर स्टेडियम को निर्धारित कर दिया है। इसका चौतरफा विरोध होने लगा है। सोमवार नौ अप्रैल को जिले के खिलाड़ी और खेलसंघ के पदाधिकारी कलेक्टर जनदर्शन में विरोध करने पहुंचे।

विभिन्न खेल संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि भीमराव अंबेडकर वार्ड में स्थित बाबू पंढरीराव कृदत्त इंडोर स्टेडियम को धरना स्थल प्रदर्शन के लिए चयनित करना उचित नहीं है। पहले से ही शहर में है खेल मैदान का अभाव है। ऐसे में खेल मैदान को प्रदर्शन के लिए अनुमति देना खेल प्रतिभाओं के साथ अन्याय है। यदि प्रशासन को जगह की आवश्यकता है तो विंध्यवासिनी वार्ड के बैला बाजार को इसके लिए दिया जा सकता है। स्टेडियम के पास बस्ती और स्कूल है। जिससे पढ़ाई का भी नुकसान होगा। इस स्थान को परिवर्तित किया जाए। मालूम हो कि कलेक्टोरेट में चार अप्रैल को विभिन्न संगठनों, समाजसेवियों और गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में धरना प्रदर्शन के सालों पुराने स्थल गांधी मैदान को बदलने का निर्णय लिया। इसकी जगह अब पोस्टआफिस वार्ड के इंडोर स्टेडियम को प्रदर्शन के लिए चयनित किया गया है। शिकायत करने वालो में वार्ड पार्षद अशोक सिन्हा, पूर्व खेल अधिकारी एआर थिटे, चंद्रदीप सिंह, सतनाम सिंह धनोवा, कमलेश देशमुख, माजिद कुरैशी, सुनील निषाद, साजिद अली,शुभम रजक, ओम सिन्हा, निखिल धालेन, सुमित सालुंके, शुभम दुबे, योगेश्वर, हितेश, अंकालूराम, घनश्याम, मनीष, ऋृषभ, अंजली फूटान सहित बड़ी संख्या में खिलाड़ी शामिल हैं।

खेल प्रतिभा के साथ मजाक

कुश्ती खिलाड़ी हितेश कुमार, टोकेश्वर, गोविंद ढीमर, विक्की, नुमेश कुमार ने कहा कि शहर में पहले से ही खेल मैदानों की कमी है। ऐसे में इंडोर स्टेडियम को को धरना के लिए आरक्षित करना उचित नहीं है। यह खेल प्रतिभा के साथ मजाक है। कराते खिलाड़ी रवि साहू, कुस्मिता साह, दीपाली राजपूत, वैष्णवी साहू, वीणा विश्वकर्मा, वासुकी विश्वकर्मा दीपशिखा ध्रुव ने कहा कि खेल मैदान की बजाय अन्य स्थान को धरना प्रदर्शन के लिए चयनित किया जाना था। प्रशासन का यह निर्णय उचित नहीं है। धरना प्रदर्शन में बड़ी तादाद में लोग पहुंचेगे इससे खेल मैदान गंदा होगा।

------------------------------

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket