धमतरी। जलजीवन मिशन की महत्वाकांक्षी योजना से शत-प्रतिशत हर घर नल-जल पहुंचाने का उद्देश्य अब मूर्तरूप लेने लगा है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के नगरी उपखंड के सुदूरवर्ती संवेदनशील ग्राम चमेदा 'हर घर नल-जल' के शत-प्रतिशत लक्ष्‌य पूर्ण करने वाला पहला ग्राम बन गया है।

'हर घर नल-जल' के शत-प्रतिशत लक्ष्‌य पूर्ति पर इस गांव में हर घर जल उत्सव मनाया गया। इस दौरान विभाग की ओर से सरपंच को प्रमाण-पत्र सौंपा गया।

धमतरी जिले के नगरी विकासखंड अंतर्गत के वनांचल के ग्राम पंचायत हरदीभाठा के आश्रित ग्राम चमेदा में विशेष ग्रामसभा का आयोजन कर ग्रामीणों को एफएचटीसी और इसके लाभ के बारे में बताया गया। हर घर में पानी पहुंचने के बारे में पूछे जाने पर मौके पर उपस्थित सभी ग्रामीणों ने एकस्वर में हामी भरी। इस दौरान गांव की निर्मला बाई ने बताया- 'पहले पीने का पानी लेने हैंडपंप जाना पड़ता था।

कभी-कभार तो पानी के लिए लंबी कतार भी लगानी पड़ती थी, लेकिन अब घर पर ही पानी की सुविधा मिल रही है।' इसी गांव की अमरीका बाई कोर्राम ने कहा कि घर में पानी पहुंचने से अब हमारा समय बच रहा है। घर बैठे साफ पानी मिल जा रहा है।

अन्य ग्रामीण महिला गौरी बाई, लालेश्वरी सहित रेखराज, रोहित नेताम और भरत कोर्राम ने बताया कि घरों में नल कनेक्शन लग जाने के उनके जीवन में काफी सकारात्मक बदलाव आया है। इस तरह ग्रामीणों के लिए हर घर नल-जल अभियान वरदान साबित हुआ है। साथ ही पेयजल की स्वच्छता और शुद्धता के बारे में भी ग्रामीणों में जागरूकता आई है।

--

श्यामलाल नेताम ने कहा कि ग्राम चमेदा एफएचटीसी के शत-प्रतिशत कव्हरेज वाला पहला गांव बन गया है जो ग्रामीणों के लिए गौरव की बात है और यह सब विभाग की मेहनत और ग्रामीणजनों की सक्रिय सहभागिता के फलस्वरूप संभव हो पाया है। इस अवसर पर सौ प्रतिशत नल कनेक्शन के लिए ग्राम पंचायत को प्रमाण-पत्र सौंपा गया।

--

107 परिवारों के घर में पहुंच रहा पानी

आदिवासी बाहुल्य ग्राम चमेदा की कुल जनसंख्या 526 है। यहां 107 परिवार निवासरत हैं। इन सभी घरों में 107 एफएचटीसी कनेक्शन के जरिए ग्रामीणों को शुद्ध व स्वच्छ पेयजल मिल रहा है। हर घर जल उत्सव कार्यक्रम में एसडीओ पीएचई एसके ठाकुर, आइएसए समन्वयक सोमेश साहू, खेमचंद साहू, भारती राठौर, प्रशिक्षण समन्वयक दीनानाथ यादव, अविनाश सहित ग्राम जल स्वच्छता समिति के सदस्यगण और काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

--

पेयजल की समस्या से राहत

ग्राम पंचायत हरदीभाठा के सरपंच मोनेश कुमार ध्रुव ने बताया कि एफएचटीसी के तहत ग्राम चमेदा शत-प्रतिशत नल-जल वाला गांव बन गया है। यह खुशी की बात है। हर घर जल योजना से गांव के सभी के घरों में नल के जरिए साफ पानी पहुंच रहा है, जिससे ग्रामीणों को पेयजल की समस्या से राहत मिली है। स्कूलों एवं सामुदायिक भवन में भी पानी का कनेक्शन विस्तारित किया जा चुका है।

---

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close