धमतरी। नवमीं के दिन अंचल समेत ग्राम पेंडरवानी में नुआखाई का पर्व धूमधाम से मनाया गया। वहीं श्रद्धा भक्ति के बीच जोत जंवारा का विसर्जन किया गया। गांव के आराध्य देव पांडे बाबा के दर्शन करने के लिए ग्रामीण समेत आसपास गांवों के लोगों की भीड़ उमड़ी।

14 अक्टूबर को ग्राम पेंडरवानी में नवमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दिन गांव के अधिकांश परिवार नुआखाई की परंपरा निभाई। बाजे गाजे व श्रद्धा भक्ति के साथ जोत जंवारा का विसर्जन किया। गांव के आराध्य देव पांडे बाबा गांव का भ्रमण किया। जोत जंवारा स्थल के चारों और निगरानी करते हुए चल रहे थे। वही गांव के चौक चौराहों पर विराजित मां दुर्गा के हवन कुंड में आहुति दी। तत्पश्चात श्रद्धा भक्ति के साथ जंवारा विसर्जन गांव के पुराना तालाब में किया गया। विसर्जन के बाद लोगों ने नुआखाई के परंपरा के अनुसार अपने घरों में पके खीर, पुड़ी व अन्य पकवान को परिवार समेत एक स्थान पर बैठकर प्रसादी ग्रहण किया। मान्यता के अनुसार निःसंतान महिलाएं जोत जंवारा पर जल चढ़ा कर संतान प्राप्ति की कामना की। इस दौरान ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

गांव के सरपंच सत्यवान साहू, उपसरपंच खिलेश कुमार साहू, पूर्व सरपंच त्रिलोकी राम साहू, शंकर लाल साहू, नारायण साहू, पूर्व सरपंच गिरधारी लाल देवांगन, कन्हैया देवांगन, कामदेव साहू, जोगुराम यादव ने बताया कि ग्राम पेंडरवानी में हर साल नवमीं का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है। दूरदराज के ग्रामीण इसे देखने के लिए पहुंचते हैं। इस दिन नुआखाई के लिए नौकरी पेशा लोग गांव पहुंचते हैं। सुबह से शाम तक गांव में त्यौहार का माहौल बना रहता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local