धमतरी । शहर व आसपास क्षेत्रों में समस्याओं का भंडार है, जो हर वर्ग के लिए मुसीबत बनी हुई है। इससे राहत दिलाने की मांग लेकर शहर के जागरूक युवकों की भीड़ कलेक्ट्रेट पहुंची। कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर शीघ्र ही व्यवस्था दुरूस्त करने और कार्रवाई करने की मांग की है। निर्धारित समय में मांगें पूरी नहीं हुई, तो आंदोलन की चेतावनी दी है।

धमतरी शहर के जागरूक युवक प्रवीण साहू, कोमल संभाकर, नीलेश साहू, गजेन्द्र साहू, शानू देवांगन, मोहन साहू, हंसराज साहू, विकास साहू, राहुल कुमार, हर्ष साहू, धनंजय साहू, देवेन्द्र मनोग्रे, हेमंत ध्रुव, भूपेश कुमार, अविनाश देवांगन, कृष्णा साहू, देव साहू, संजू यादव व पीयूष गजेन्द्र 17 अगस्त को कलेक्ट्रेट पहुंचे। कलेक्टर के नाम सौंपे ज्ञापन में शिकायत करते युवकों ने आरोप लगाया है कि धमतरी शहर के भीतर प्रदूषण दिनोंदिन बढ़ने लगा है। प्रदूषण के चलते लोगों के आंखों में तकलीफ व अस्थमा मरीजों की परेशानी बढ़ गई है। वर्षा थमने के बाद शहर के भीतर काम चलाऊ गिट्टी बिछाने धूल बढ़ गया है, जिससे हर वर्ग परेशान है। वहीं राईसमिलों के राखड़ बस स्टैंड व लोगों के घरों तक पहुंचता है। राखड़ से अब तक कई लोगों के आंखों में परेशानी आ चुकी है। जिला प्रशासन राईसमिलों पर लगी चिमनियों की उंचाई को लेकर गंभीर नहीं है। ऐसे में युवकों ने राईसमिलों पर प्रदूषण जांच कराकर निरीक्षण करने की मांग की है।

अंबेडकर चौक से गंगरेल तक चौड़ीकरण की मांग : युवकों का आरोप है कि रेत खदानों से शहर व आसपास गांवों की सड़कों का बुराहाल है। हाईवा की तेज रफ्तार अब तक कई जानें ले चुकी है। वाहनों की रफ्तार नहीं थम रहा है। ऐसे में शासन रेत खदान क्षेत्र के सड़कों का मरम्मत शीघ्र करें। नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। युवकों का कहना है कि धमतरी बायपास का काम काफी धीमी गति से चल रहा है, इसमें तेजी लाने की मांग की है। अंबेडकर चौक से गंगरेल तक, सिहावा चौक से कोलियारी, कोलियारी से खरेंगा और रत्नाबांधा चौक से पोटियाडीह तक रोड़ चौड़ीकरण करने की मांग की है, ताकि दुर्घटना में कमी आ सके। वहीं धमतरी में इंजीनियरिंग व मेडिकल कालेज खोलने की मांग की है। क्योंकि शहर के विद्यार्थियों को महंगा फीस जमा कर पढ़ाई करने बाहर जाना पड़ता है। जिले के प्रमुख गंगरेल बांध के गेट क्षेत्र में सालों से ताला जड़ा गया है। प्रवेश पर बिना आदेश प्रतिबंध लगा दिया गया है, जो नियम विरूद्ध है। गेट क्षेत्र में प्रवेश से सैलानियों की उम्मीदों पर पानी फिरने लगा है, ऐसे में दिनोंदिन पर्यटन कम होने लगा है। युवकों ने शासन प्रशासन से अपनी मांगों को शीघ्र पूरा करने की मांग की है। मांगे पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close