धमतरी। बारिश थमने के बाद तेज धूप और उमस ने लोगों की बेचैनी बढ़ा दी है। लोग पसीने से तरबतर हो रहे हैं। आमजनों समेत किसानों को अब बारिश होने का इंतजार है, ताकि गर्मी और उमस से राहत मिल सके।

आषाढ़ माह शुरू होने के बाद से अंचल में बारिश थम गई है। पिछले तीन चार दिनों से अच्छी बारिश नहीं हो रही है, जबकि आसमान में तेज धूप और भारी उमस से लोग बेहाल है। 29 जून को तापमान का पारा 32 डिग्री रहा। सुबह से रात तक भारी उमस बना रहा। कामकाजी समेत अन्य लोग दिनभर पसीने से तरबतर होता रहा। महिलाएं, वृद्धजन व अन्य लोग शहर में तेज धूप से बचने स्कार्फ व छतरी लेकर चलते हुए नजर आए।

वहीं घरों और शासकीय कार्यालयों में बंद पड़े कूलर फिर से चालू हो गए हैं, क्योंकि बिना कूलर कमरों और शासकीय कार्यालयों में रह पाना मुश्किल हो गया है। अब लोगों को आषाढ़ माह शुरू होने के बाद से मौसम में परिवर्तन होने और अच्छी बारिश का इंतजार है, ताकि गर्मी और उमस से लोगों को राहत मिल सके।

इस मौसम का विपरीत असर लोगों की सेहत पर भी पड़ने लगा है। जिला अस्पताल में पदस्थ डा संजय वानखेड़े ने बताया कि पहले बारिश और अब तेज धूप व उमस से व्याकुल वाले मौसम में लोग सर्दी, बुखार समेत मौसमी बीमारी से पीड़ित होकर उपचार कराने अस्पताल पहुंच रहे हैं। यह मौसम सेहत के लिए काफी नुकसानदायक है।

किसानों को बारिश का इंतजार

किसानों के खेतों में नर्सरी तैयार हो गया है। अब रोपाई के लिए किसान अपने खेतों पर हल चलाकर तैयारी पूरी कर ली है, लेकिन बारिश थमने के बाद तेज धूप के कारण खेतों में भरे पानी तेजी से सूखने लगा है। वहीं सिंचाई सुविधा वाले किसान बोर सिंचाई कर खेतों में पानी भर रहे हैं, लेकिन मानसून पर निर्भर किसानों को अब बारिश होने का इंतजार है। वे खेतों पर पानी भरने के बाद रोपाई कर सकेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags