धमतरी। Dhamtari News: मोतियाबिंद के आपरेशन कराने पहुंची एक महिला नक्सली समेत चार लोगों को साइबर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में लगी हुई है। यह घटना गुरुवार की रात की है।

मिली जानकारी के अनुसार महिला नक्सली करुणा सी गुरुवार को अपने आंख की मोतियाबिंद का आपरेशन कराने के लिए तीन अन्य महिला- पुरुषों के साथ रत्नाबांधा रोड एक निजी अस्पताल में आपरेशन कराने आई थी, तभी इसकी भनक धमतरी पुलिस को लगी और साइबर टीम ने अस्पताल में दबिश दी।

पुलिस अधिकारी व जवानों की टीम ने घेराबंदी कर सभी को गिरफ्तार किया है। आरोपितों को पुलिस लाइन रुद्री में रखा गया है। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि रविवार को शाम आईजी के आने के बाद इसकी पुष्टि की जाएगी। पता चला है कि महिला नक्सली ओडिशा के सबसे बड़े नक्सली की पत्नी है।

खबरों के अनुसार महिला नक्‍सली जिस अस्‍पताल में इलाज कराने पहुंची थी, धमतरी पुलिस अब वहां के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है।

प्रेशर आइईडी में विस्फोट से सीआरपीएफ जवान घायल

इधर, एक दिन पहले शनिवार सुबह छतीसगढ़ के बीजापुर-सुकमा मार्ग पर पेगड़ापल्ली के पास नक्सलियों के लगाए प्रेशर आइईडी में विस्फोट हो जाने से सीआरपीएफ 153वीं बटालियन के एएसआइ मोहम्मद असलम (50) घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल जवान को हेलीकाप्टर से रायपुर रेफर किया गया है। उनके पैरों में गंभीर चोटें आई हैं।

एएसपी नक्सल आपरेशन आदित्य पांडे ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि तर्रेम थाना क्षेत्र के जगरगुंडा इलाके में यह घटना हुई। बिहार के जिला भोजपुर, तहसील जगदीशपुर, पोस्ट बनाही के ग्राम बगाही निवासी असलम बीजापुर में तैनात हैं।

शनिवार सुबह गश्त के दौरान प्रेशर आइईडी पर उनका पैर पड़ते ही जोरदार विस्फोट हो गया। इससे वे घायल हो गए। उनके पैरों में गंभीर चोटें आई हैं। गश्त के दौरान मौजूद अन्य सभी जवान सुरक्षित हैं। साथी जवान असलम को बासागुड़ा अस्पताल ले गए। वहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें रायपुर रेफर किया गया है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close